Breaking :
||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये||झारखंड में हीट वेब को लेकर इन जिलों में येलो अलर्ट जारी, पारा 43 डिग्री के पार||सतबरवा सड़क हादसे में मारे गये दोनों युवकों की हुई पहचान, यात्री बस की चपेट में आने से हुई थी मौत||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक||बड़ी खबर: 25 लाख के इनामी समेत 29 नक्सली ढेर, तीन जवान घायल||पलामू: महुआ चुनकर घर जा रही नाबालिग से भाजपा मंडल अध्यक्ष ने किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस||झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य नज़रुल इस्लाम ने मोदी को जमीन में 400 फीट नीचे गाड़ने की दी धमकी, भाजपा प्रवक्ता ने कहा- इंडी गठबंधन के नेता पीएम मोदी के खिलाफ बड़ी घटना की रच रहे साजिश
Sunday, April 21, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड विधानसभा का शीतकालीन सत्र 15 दिसंबर से, स्पीकर ने की हाई लेवल मीटिंग

रांची : झारखंड विधानसभा का शीतकालीन सत्र 15 दिसंबर से शुरू होगा। इसके मद्देनजर गुरुवार को विधानसभा अध्यक्ष रबींद्र नाथ महतो ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, संसदीय कार्य मंत्री आलमगीर आलम, नेता प्रतिपक्ष अमर कुमार बाउरी, श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता, आजसू विधायक लंबोदर महतो, सीपीआई (एमएल) विधायक विनोद सिंह और सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ उच्चस्तरीय बैठक की। इसमें सत्र की तैयारियों और उसके सफल संचालन के साथ-साथ सत्र के दौरान सुरक्षा को लेकर भी चर्चा हुई।

बैठक शुरू होने से पहले विधानसभा अध्यक्ष रवींद्रनाथ महतो, मुख्यमंत्री सह सदन के नेता हेमंत सोरेन, विधायक लंबोदर महतो और विनोद सिंह नेता प्रतिपक्ष अमर कुमार बाउरी को अपने कक्ष में ले गये। अमर बाउरी ने इसके लिए सभी का आभार भी व्यक्त किया।

संसदीय कार्य मंत्री आलमगीर आलम ने कहा कि राज्य सरकार विपक्ष के हर सवाल का सामना करने के लिए तैयार है। बीजेपी के पास कोई मुद्दा नहीं है। उन्होंने उम्मीद जतायी कि विपक्ष सत्र के दौरान राज्य की जनता के ज्वलंत मुद्दों पर सकारात्मक भूमिका निभायेगा।

बहरहाल, शीतकालीन सत्र में कांग्रेस के राज्यसभा सांसद धीरज साहू के ठिकानों से मिले सैकड़ों करोड़ रुपये की बरामदगी को लेकर मुख्य विपक्षी दल बीजेपी और उसकी सहयोगी आजसू पार्टी जोरदार आवाज उठाने और सरकार से जवाब मांगने की तैयारी में है।

नेता प्रतिपक्ष अमर कुमार बाउरी ने सत्र के दौरान बीजेपी की तैयारियों के बारे में कहा कि बीजेपी के पास इस बार सरकार को घेरने के लिए मुद्दों की कोई कमी नहीं है। युवाओं की बेरोजगारी से लेकर प्रतियोगी परीक्षाओं के स्थगित होने और बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता न दिये जाने तक के मुद्दे अहम हैं। उन्होंने कहा कि धीरज साहू प्रकरण को लेकर भी सरकार को घेरने का काम किया जायेगा।

मुख्य सचेतक बिरंची नारायण ने कहा कि भ्रष्टाचार के अलावा धीरज साहू एक बड़ा मुद्दा हैं। ईडी द्वारा मुख्यमंत्री को छह बार तलब किये जाने के बावजूद उनका ईडी कार्यालय नहीं जाना एक गहरा सवाल है। मुख्यमंत्री संवैधानिक संस्था को ठेंगा दिखाने में लगे हैं।

Jharkhand Assembly Winter session