Breaking :
||चतरा डीसी अबु इमरान ने किया एक और सांसद का अपमान, लोकसभा स्पीकर के पास दूसरी बार पहुंची शिकायत||अब झारखंड के प्राथमिक विद्यालयों में कक्षाएं संचालित करने में स्थानीय युवाओं की मदद लेगी सरकार||रांची बिरसा मुंडा एयरपोर्ट उड़ाने की धमकी देने वाला आरोपी बिहार से गिरफ्तार||बिहार में सियासी हलचल, नीतीश के पालाबदल की चर्चा, दिल्ली बुलाए गए भाजपा नेता||सुखाड़ को लेकर सरकार गंभीर, स्थिति का जायजा लेने सभी जिलों में भेजे गए अधिकारी||रांची में अपराधियों ने गैस दुकानदार मारी गोली, रिम्स में चल रहा इलाज||माओवादियों के नाम पर लेवी वसूलने आये तीन बदमाश पकड़ाये||झारखंड कैबिनेट में फेरबदल, कांग्रेस के लिए नयी मुसीबत, फूट पड़ने की आशंका बढ़ी||अब लातेहार के इस गांव के ग्रामीणों ने सीमा पर लगाया बोर्ड, बाहरी व्यक्ति के प्रवेश पर रोक||सांगठनिक बदलाव की तैयारी में झारखंड कांग्रेस, अधिकांश जिले में नए चेहरों को मौका

पूजा समिति ने सरईडीह शिव मंदिर के संस्थापक व महिला समाजसेवी समेत दर्जनों लोगों को किया सम्मानित

'

शशि शेखर/बरवाडीह/बेतला

लातेहार : रविवार को प्रखंड के प्रसिद्ध पर्यटन औऱ धर्मिक स्थल के रूप में विख्यात सरईडीह शिव मंदिर में स्थापित सरस्वती पूजा समिति के द्वारा मंदिर परिसर में सम्मान समारोह का आयोजन किया गया।

आयोजन समिति के द्वारा सम्मान समारोह के माध्यम से सबसे पहले मंदिर निर्माण में अहम योगदान देने वाले मंदिर के संस्थापक और समाजसेवी अमरेश प्रसाद गुप्ता और उनकी धर्मपत्नी उषा गुप्ता को चुनरी और अन्य वस्त्र भेंट करके सम्मानित किया गया।

समिति के द्वारा प्रखंड की जिला परिषद की उम्मीदवार और अपना अधिकार अपना सम्मान मंच की सचिव संतोषी शेखर को भी चुनरी भेंट कर सम्मानित किया गया। साथ ही कमलेश कुमार सिंह, नमो एप के लोकसभा संयोजक दिलीप सिंह यादव, उमेश प्रसाद, जोखन प्रसाद, रामनाथ साहू, नवल प्रसाद, राधा कृष्ण प्रसाद, अभय सिंह, रणविजय सिंह, संतोष कुमार गुप्ता समेत कई प्रमुख लोगों को अंग वस्त्र भेंट करके सम्मानित किया गया।

मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए अमरेश प्रसाद गुप्ता ने कहा कि हमारी संस्कृति हमारी पहचान है और इसे बचाने के लिए हम सभी को अपने धर्म और संस्कृति का ज्ञान लेना बहुत जरूरी है। इसके लिए हम सभी को एकजुट होकर अपने धर्म संस्कृति की रक्षा करने और उसे जन-जन तक पहुंचाने का योगदान देना चाहिए।

मैला समाजसेवी संतोषी शेखर ने कहा कि सरईडीह शिव मंदिर हम सब की धरोहर है और इस धरोहर को धार्मिक और पर्यटन स्थल के रूप में पहचान दिलाने के लिए अमरेश प्रसाद जी के द्वारा किया गया कार्य और योगदान अनमोल और अनुकरणीय है।

मौके पर विकास सिंह, विशाल सिंह, चंदन कुमार, विशाल कुमार पप्पू, चंदन प्रसाद, मनीष प्रसाद, रंजन प्रसाद, संजीत प्रसाद, प्रदेश सिंह, आदित्य प्रसाद, अमित कुमार शुभांग, अरविंद, अविनाश कुमार, सोनू कुमार समेत काफी संख्या में स्थानीय लोग मौजूद थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published.