Breaking :
||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक||बड़ी खबर: 25 लाख के इनामी समेत 29 नक्सली ढेर, तीन जवान घायल||पलामू: महुआ चुनकर घर जा रही नाबालिग से भाजपा मंडल अध्यक्ष ने किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस||झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य नज़रुल इस्लाम ने मोदी को जमीन में 400 फीट नीचे गाड़ने की दी धमकी, भाजपा प्रवक्ता ने कहा- इंडी गठबंधन के नेता पीएम मोदी के खिलाफ बड़ी घटना की रच रहे साजिश||लातेहार: बालूमाथ में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से एक बाइक सवार की मौत, दो की हालत गंभीर||लातेहार: माओवादियों की बड़ी साजिश नाकाम, बरवाडीह के जंगल से आठ आईईडी बम बरामद||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या
Wednesday, April 17, 2024
बरवाडीहलातेहार

विधायक ने स्पेशल ट्रेन का दर्जा हटाकर सभी ट्रेनों को पहले की तरह ठहराव कर बढ़ा हुआ किराया वापस लेने की मांग की

शशि शेखर/बरवाडीह

लातेहार : मनिका विधानसभा के स्थानीय विधायक रामचंद्र सिंह ने धनबाद रेल मंडल प्रबंधक को पत्र लिखकर पूर्व की भांति बरकाकाना बरवाडीह रेल खंड में चलने वाली सभी ट्रेनों का ठहराव जिला मुख्यालय लातेहार, बरवाडीह जंक्शन, छिपादोहर व केचकी स्टेशन में करने व स्पेशल ट्रेन का दर्जा हटाने की मांग किया है।

विधायक रामचंद्र सिंह ने डीआरएम को लिखे पत्र में कहा है कि कोरोना संक्रमण के प्रसार होने से पूर्व इस रेलखंड में बरकाकाना पटना पलामू एक्सप्रेस (133 47/13348), सासाराम रांची इंटरसिटी (18635/18646) एक्सप्रेस, हावड़ा भोपाल एक्सप्रेस (13025/13026), वाराणसी संबलपुर इंटरसिटी एक्सप्रेस (18611/28612), स्वर्ण जयंती झारखंड एक्सप्रेस (12873/12874) इन सभी ट्रेनों का परिचालन पूर्व की तरह होता था तथा इन सभी ट्रेनों का ठहराव निर्धारित था।

लेकिन कोविड-19 महामारी संक्रमण के बढ़ते प्रसार को देखते हुए उपरोक्त सभी ट्रेनों का परिचालन पूर्ण रूप से बंद कर दिया गया था। अब कोविड 19 महामारी पर नियंत्रण होने के उपरांत व धीरे-धीरे स्थिति सामान्य होने पर अधिक भाड़ा लेते हुए स्पेशल ट्रेन के रूप में उपरोक्त ट्रेनों का परिचालन शुरू किया गया।

इसे भी पढ़ें :- लातेहार: अज्ञात अपराधियों ने व्यवसायी पर किया हमला, गंभीर रूप से घायल, रिम्स रेफर

वर्तमान समय में महामारी पर पूरी तरह अंकुश है ऐसे में इस रेलखंड में चलने वाले सभी उपरोक्त ट्रेनों का परिचालन सामान्य रूप से संचालित है। लेकिन जिला मुख्यालय लातेहार बरवाडीह, छिपादोहर व केचकी रेलवे स्टेशन में इन ट्रेनों का ठहराव नहीं होने से लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

विधायक श्री सिंह ने अपने मांग पत्र में यह भी कहा है कि इन स्टेशन में ठहराव नहीं होने से जिले के लातेहार, बरवाडीह, मनिका, गारू व महुआडांड़ क्षेत्र के लोग प्रभावित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह क्षेत्र कृषि मजदूर व छोटे व्यवसाय बहुल क्षेत्र है। इन क्षेत्रों का आवागमन का मुख्य साधन ट्रेन ही है।

यातायात के दृष्टिकोण से इन ट्रेनों का ठहराव नहीं होने से लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा रहा है। ऐसे में विधायक रामचंद्र सिंह ने मंडल रेल प्रबंधक धनबाद आधा दर्जन से अधिक ट्रेनों का ठहराव इन स्टेशनों में करते हुए स्पेशल ट्रेन का दर्जा हटाते हुए बढ़े हुए किराए को भी वापस लेने की मांग किया है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

विधायक श्री सिंह ने डीआरएम को अवगत कराते हुए यातायात का मुख्य साधन होने के कारण ट्रेनों का ठहराव अभिलंब करने वह बढ़े हुए किराए को वापस लेने की मांग किया है।

वही डीआरएम आशीष बंसल ने मामले पर त्वरित कार्रवाई करते हुए धनबाद वरीय मंडल वाणिज्य प्रबंधक को अभिलंब उचित कार्रवाई हेतु अग्रसारित किया है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें