Breaking :
||सुखाड़ को लेकर सरकार गंभीर, स्थिति का जायजा लेने सभी जिलों में भेजे गए अधिकारी||रांची में अपराधियों ने गैस दुकानदार मारी गोली, रिम्स में चल रहा इलाज||माओवादियों के नाम पर लेवी वसूलने आये तीन बदमाश पकड़ाये||झारखंड कैबिनेट में फेरबदल, कांग्रेस के लिए नयी मुसीबत, फूट पड़ने की आशंका बढ़ी||अब लातेहार के इस गांव के ग्रामीणों ने सीमा पर लगाया बोर्ड, बाहरी व्यक्ति के प्रवेश पर रोक||सांगठनिक बदलाव की तैयारी में झारखंड कांग्रेस, अधिकांश जिले में नए चेहरों को मौका||उपराष्ट्रपति चुनाव में एनडीए प्रत्याशी जगदीप धनखड़ की जीत, देश के 14वें उपराष्ट्रपति होंगे धनखड़||सीएम हेमंत सोरेन पहुंचे दिल्ली, झारखंड कैबिनेट में फेरबदल की अटकलें तेज||माओवादियों की अपील, विश्व आदिवासी दिवस पर करें अत्याचार के खिलाफ संघर्ष||लातेहार: मनिका में एंबुलेंस और ट्रक की सीधी टक्कर में एक की मौत, 6 घायल

चंदवा: दस दिन से लापता अनिल की तलाश में जुटी पुलिस, अब तक नहीं मिला कोई सुराग

'

लातेहार : पुलिस चंदवा थाना क्षेत्र के आन गांव निवासी अनिल सिंह की तलाश कर रही है, लेकिन उसका कहीं सुराग नहीं लग रहा है। 10 दिन बीत जाने के बाद भी उसका सुराग नहीं लगने से परिजन किसी अप्रिय घटना को लेकर आशंकित हैं।

तीन अप्रैल को उसकी हत्या कर शव में पत्थर बांध किसी जलाशय में फेंके जाने की अफवाह के बाद चंदवा थाना पुलिस को दी गई।

चंदवा थाना पुलिस को 3 अप्रैल को एक अफवाह मिली की उसकी हत्या कर शव को तालाब में फेंक दिया गया है। जिसके बाद पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी आशुतोष कुमार के निर्देश पर एसआई मुकेश कुमार चौधरी, एसआई अरविंद सिंह सदल बल गांव पहुंचे। वे कुएं और तालाब की तलाशी लेते रहे लेकिन उन्हें कोई सुराग नहीं मिला।

इसे भी पढ़ें :- लातेहार: अज्ञात अपराधियों ने व्यवसायी पर किया हमला, गंभीर रूप से घायल, रिम्स रेफर

बताया जाता है कि अनिल 25 मार्च को रेंची गांव फुचका बेचने गया था, जहां से वह गायब हो गया। आसपास के लोग उसकी तलाश करते रहे लेकिन उसका कोई पता नहीं चला। रविवार को अफवाह उड़ी कि उसकी हत्या करने के बाद उसके शव से पत्थर बांधकर रेंची गांव के एक तालाब में फेंक दिया गया। इसके बाद से परिजन व ग्रामीण जलस्रोतों को खंगाल रहे हैं। सूचना पर चंदवा थाना पुलिस भी लापता अनिल की तलाश में लगी है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें