Breaking :
||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता का इंडी गठबंधन पर हमला, कहा- कोड वर्ड के जरिये बेच दिया झारखंड को||टेंडर कमीशन देने में पांकी के ठेकेदार का भी नाम : शशिभूषण मेहता||टेंडर घोटाले की जांच में पूर्व मंत्री आलमगीर आलम नहीं कर रहे सहयोग : ED||पांचवें चरण में 63.21 फीसदी वोटिंग, पुरुषों से ज्यादा रही महिलाओं की भागीदारी||गढ़वा: शादी समारोह में शामिल होने जा रही मां-बेटी की सड़क हादसे में मौत, बेटा और बेटी की हालत नाजुक||झारखंड: स्कूलों में शत प्रतिशत नामांकन को लेकर राज्य शिक्षा परियोजना गंभीर, लापरवाही बरतने पर होगी कार्रवाई||टेंडर कमीशन घोटाला मामला: ED ने अब IAS मनीष रंजन को पूछताछ के लिए बुलाया||मतदान केंद्र में फोटो या वीडियो लेना अपराध, की जा रही है कार्रवाई : मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी||लातेहार: बालूमाथ में बाइक दुर्घटना में एक युवक की मौत, दूसरा गंभीर, रिम्स रेफर||गढवा: डोभा में नहाने के दौरान डूबने से JJM नेता के पोते समेत दो किशोरों की मौत
Thursday, May 23, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

भारत-इंग्लैंड टेस्ट मैच को लेकर खालिस्तानी आतंकी संगठन ने दी धमकी

Ranchi INDvsENG Test Match

रांची : राजधानी रांची में भारत और इंग्लैंड के बीच खेले जाने वाले टेस्ट मैच को लेकर प्रतिबंधित आतंकी संगठन खालिस्तानी आतंकी और सिख फॉर जस्टिस (एसएफजे) के अध्यक्ष गुरुपतवंत सिंह पन्नू ने धमकी दी थी। उसने सोशल मीडिया के जरिये भारत में प्रतिबंधित नक्सली संगठन सीपीआई माओवादियों से इस मैच को रद्द कराने के लिए आह्वान किया है।

सिख फॉर जस्टिस ने भारत और इंग्लैंड के बीच 23 से 27 फरवरी तक रांची के जेएससीए स्टेडियम में होने वाले टेस्ट मैच को रद्द करने की धमकी दी है। साथ ही झारखंड और पंजाब में हंगामा मचाने और भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान रोहित शर्मा और इंग्लैंड टीम के कप्तान बेन स्टॉक को मैच नहीं खेलने देने का भी आह्वान किया है। उसने इंग्लैंड टीम को वापस इंग्लैंड जाने की धमकी दी है।

मामले को लेकर एसआई मदन कुमार महतो के बयान पर धुर्वा थाने में प्राथमिकी (कांड संख्या 69/2024) दर्ज की गयी है। दर्ज एफआईआर के मुताबिक गुरुपतवंत सिंह पन्नू ने भारत में आतंक फैलाने और आदिवासियों के मन में सरकार के प्रति नफरत और अवमानना पैदा करने की कोशिश की है, जो यूएपी एक्ट, आईटी एक्ट के तहत दंडनीय अपराध है। साथ ही दो मित्र देशों के बीच खेल संबंधों को खराब करने और प्रतिबंधित नक्सली संगठन के माध्यम से खेलों में बवंडर पैदा करने के लिए सोशल मीडिया के माध्यम से वीडियो जारी करने से क्षेत्र के लोगों में दहशत पैदा हो गयी है।

सिख फॉर जस्टिस के गुरुपतवंत सिंह पन्नू ने भी माओवादियों से आदिवासी भूमि पर क्रिकेट नहीं खेलने देने का आह्वान किया है। अमृतसर के रहने वाले गुरपतवंत पन्नू ने पंजाब यूनिवर्सिटी से कानून की पढ़ाई की है। पढ़ाई पूरी करने के बाद वह विदेश चला गया, जहां उसने पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के साथ मिलकर पंजाब में खालिस्तानी अलगाववादी अभियान चलाता है।

Ranchi INDvsENG Test Match