Breaking :
||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता का इंडी गठबंधन पर हमला, कहा- कोड वर्ड के जरिये बेच दिया झारखंड को||टेंडर कमीशन देने में पांकी के ठेकेदार का भी नाम : शशिभूषण मेहता||टेंडर घोटाले की जांच में पूर्व मंत्री आलमगीर आलम नहीं कर रहे सहयोग : ED||पांचवें चरण में 63.21 फीसदी वोटिंग, पुरुषों से ज्यादा रही महिलाओं की भागीदारी||गढ़वा: शादी समारोह में शामिल होने जा रही मां-बेटी की सड़क हादसे में मौत, बेटा और बेटी की हालत नाजुक||झारखंड: स्कूलों में शत प्रतिशत नामांकन को लेकर राज्य शिक्षा परियोजना गंभीर, लापरवाही बरतने पर होगी कार्रवाई||टेंडर कमीशन घोटाला मामला: ED ने अब IAS मनीष रंजन को पूछताछ के लिए बुलाया||मतदान केंद्र में फोटो या वीडियो लेना अपराध, की जा रही है कार्रवाई : मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी||लातेहार: बालूमाथ में बाइक दुर्घटना में एक युवक की मौत, दूसरा गंभीर, रिम्स रेफर||गढवा: डोभा में नहाने के दौरान डूबने से JJM नेता के पोते समेत दो किशोरों की मौत
Thursday, May 23, 2024
पलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार: पुश्तैनी जमीन पर जबरन कब्जा का प्रयास, पीड़ित ने डीसी व एसपी को अर्जी देकर लगायी न्याय की गुहार

गोतिया ने भू-माफियाओं से मिलीभगत कर बेच दी अंतू यादव की जमीन

लातेहार : नगर पंचायत क्षेत्र के डुरुआ गांव निवासी अंतु यादव पिता स्व. फूटू यादव ने गोतिया व एक अन्य पर शहरी क्षेत्र की पुश्तैनी जमीन पर जबरन कब्जा करने का आरोप लगाया है। इसको लेकर पीड़ित अंतु यादव ने जिले के डीसी व एसपी को आवेदन देकर न्याय की गुहार लगायी है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

दोनों बेटे को जान से मारने की मिल रही धमकी

दिये गये आवेदन में बताया गया है कि उमेश कुमार यादव पिता स्व. जगदीश यादव, अनुपा देवी पति उमेश कुमार यादव (डुरुआ), सोनू कुमार यादव पिता रामचंद्र यादव (होटवाग) व उपेन्द्र प्रसाद पिता रामदेव प्रसाद (राजहार लातेहार) जबरन मेरी जमीन हड़पना चाहते हैं। मना करने पर मेरे दोनों बेटे बसंत यादव और रूपनाथ यादव को लगातार जान से मारने और फेंक देने की धमकी दे रहे हैं।

क्या है पूरा मामला

मामले को लेकर बुधवार को अंतू यादव ने बताया कि 26 जून 2021 को एकरारनामा सह समझौता पत्र के आधार पर शपथ पत्र संख्या 7848 के माध्यम से मेरे गोतिया उमेश कुमार यादव और मेरे बीच कुल जमीन का बंटवारा हो गया है। जमीन दोनों हिस्सों में बराबर पड़ी है। उमेश कुमार यादव अपने हिस्से की जमीन पहले ही बेच चुका है। इसके बाद भूमाफियाओं से मिलीभगत कर मेरी जमीन भी बेच दी है। अब मेरी जमीन पर बालू-ईंट गिराकर जबरन कब्जा करने का प्रयास किया जा रहा है। जबकि उसी जमीन पर मैं प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत नगर पंचायत विभाग से प्राप्त मकान का निर्माण कर अपने परिवार व बच्चों के साथ रह रहा हूं। मैं अपना और अपने परिवार का भरण-पोषण करने के लिए बाकी जमीन पर खेती कर रहा हूं।

कुछ लोग मेरी गरीबी का उठाना चाहते हैं फायदा

पीड़ित अंतू यादव ने आगे कहा है कि कुछ लोग मेरी गरीबी का फायदा उठाना चाहते हैं। ऐसे में जिला व पुलिस प्रशासन से ही न्याय मिलने की उम्मीद है। उन्होंने डीसी भोर सिंह यादव व एसपी अंजनी अंजन से मामले की जांच कर न्याय दिलाने की मांग की है।