Breaking :
||BREAKING: बालूमाथ में मधुमक्खियों ने फिर किया हमला, एक आदिवासी महिला की मौत, छह घायल||लातेहार: पातम-डाटम जल प्रपात घूमने आये दो युवकों की नहाने के दौरान नदी में डूबने से मौत||पाकुड़ में करंट लगने से बाप-बेटे की मौत, बेटे को बचाने में गयी पिता की जान||झारखंड में IAS अधिकारियों का तबादला, केके सोन को परिवहन विभाग का अतिरिक्त प्रभार||बूढ़ा पहाड़ पहुंचे CRPF के DG कुलदीप सिंह, जवानों का बढ़ाया हौसला||वर्चस्व की लड़ाई में मारा गया JJMP कमांडर, लातेहार, रामगढ़ और रांची इलाके में था सक्रिय||शर्मनाक: पुलिस कर्मी पर जानवर से दुष्कर्म का आरोप, ग्रामीणों ने की मारपीट, आरोपी जवान निलंबित||BREAKING: पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में घायल सीआरपीएफ जवान की इलाज के दौरान मौत||15 लाख का इनामी माओवादी कमांडर विनय यादव गिरफ्तार, पलामू, लातेहार, गढ़वा व चतरा में हुए कई नक्सली हमलों में था शामिल||पलामू: अज्ञात वाहन की चपेट में आने से बाइक सवार दो युवकों की मौत, एक गंभीर

अब झारखंड के बिजली उपभोक्ताओं को मिलेगी 100 यूनिट मुफ्त बिजली

'

हेमंत सरकार ने पूरा किया चुनावी वादा

रांची : झारखंड के बिजली उपभोक्ताओं को 100 यूनिट तक मुफ्त बिजली का लाभ मिलना शुरू हो गया है। बिजली वितरण निगम के महाप्रबंधक शुभंकर झा के मुताबिक, इसके लिए बिलिंग सॉफ्टवेयर को अपडेट कर दिया गया है। इस माह जुलाई माह का बिल प्राप्त करने वाले विद्युत उपभोक्ताओं को 100 यूनिट बिजली का लाभ निःशुल्क प्राप्त हो रहा है। राज्य मंत्रिपरिषद ने इस आशय की मंजूरी दे दी है।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इसी के तहत बिजली वितरण निगम ने बिलिंग शुरू कर दी है। इसके बाद 400 यूनिट तक सब्सिडी का लाभ मिलेगा। 400 यूनिट से अधिक की खपत पर न तो बिजली मुफ्त मिलेगी और न ऐसे उपभोक्ताओं को सब्सिडी का लाभ भी नहीं मिलेगा।

बिजली वितरण निगम के महाप्रबंधक शुभंकर झा के मुताबिक ऐसे उपभोक्ता जो 100 यूनिट से कम बिजली की खपत करते हैं, उन्हें बिजली का बिल नहीं देना होगा। वहीं 400 यूनिट से अधिक बिजली की खपत के लिए उपभोक्ता को 6.75 रुपये प्रति यूनिट की दर से बिजली बिल देना होगा।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

बताया कि झारखंड में 100 यूनिट बिजली की खपत करने वाले बिजली उपभोक्ताओं की संख्या करीब 32 लाख है। इनमें से करीब 27 लाख बिजली उपभोक्ता गांवों से हैं। अब उन्हें बिजली का बिल नहीं देना होगा।

मालूम हो कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने विधानसभा चुनाव के दौरान जनता से वादा किया था कि झारखंड में झामुमो की सरकार बनने के बाद 100 यूनिट बिजली मुफ्त दी जाएगी। सरकार के ढाई साल पूरे होते ही इस वादे को धरातल पर उतारकर हेमंत सोरेन ने अपना वादा पूरा करते हुए गरीबों को बड़ी राहत दी है। इस पहल से गांवों और शहरों में रहने वाले गरीबों को काफी फायदा होगा। इस सुविधा के एवज में सरकार झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड को करीब तीस करोड़ रुपये का अनुदान देगी।

वर्तमान में हेमंत सोरेन सरकार शहरी बिजली उपभोक्ताओं को करीब 6.5 करोड़ रुपये और ग्रामीण बिजली उपभोक्ताओं को करीब 38 करोड़ रुपये हर महीने अनुदान देती है। 100 यूनिट बिजली मुफ्त कर हेमंत सोरेन सरकार को शहर में रहने वाले बिजली उपभोक्ताओं के लिए करीब 16 करोड़ और गांवों में रहने वाले बिजली उपभोक्ताओं के लिए करीब 60 करोड़ रुपये खर्च करने होंग। यानी तीस करोड़ का अतिरिक्त खर्च वहन करना है।