Breaking :
||बिहार में सियासी हलचल, नीतीश के टर्नअराउंड की चर्चा, दिल्ली बुलाए गए भाजपा नेता||सुखाड़ को लेकर सरकार गंभीर, स्थिति का जायजा लेने सभी जिलों में भेजे गए अधिकारी||रांची में अपराधियों ने गैस दुकानदार मारी गोली, रिम्स में चल रहा इलाज||माओवादियों के नाम पर लेवी वसूलने आये तीन बदमाश पकड़ाये||झारखंड कैबिनेट में फेरबदल, कांग्रेस के लिए नयी मुसीबत, फूट पड़ने की आशंका बढ़ी||अब लातेहार के इस गांव के ग्रामीणों ने सीमा पर लगाया बोर्ड, बाहरी व्यक्ति के प्रवेश पर रोक||सांगठनिक बदलाव की तैयारी में झारखंड कांग्रेस, अधिकांश जिले में नए चेहरों को मौका||उपराष्ट्रपति चुनाव में एनडीए प्रत्याशी जगदीप धनखड़ की जीत, देश के 14वें उपराष्ट्रपति होंगे धनखड़||सीएम हेमंत सोरेन पहुंचे दिल्ली, झारखंड कैबिनेट में फेरबदल की अटकलें तेज||माओवादियों की अपील, विश्व आदिवासी दिवस पर करें अत्याचार के खिलाफ संघर्ष

झारखंड में 31 जनवरी के बाद खुलेंगे सभी स्कूल, शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने किया बड़ा ऐलान

'

झारखंड के स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के मंत्री जगरनाथ महतो ने कहा है कि 31 जनवरी 2022 के बाद राज्य के सभी स्कूल खुलवा दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि स्कूलों के बंद होने से बच्चों की शिक्षा प्रभावित हो रही है। सरकारी स्कूलों के सभी बच्चों की आनलाइन कक्षाएं भी नहीं हो पा रही हैं। ऐसे में कोरोना संक्रमण की समीक्षा कर स्कूलों के खोलने की कार्यवाही की जाएगी।

हालांकि स्कूलों के खोलने का अंतिम निर्णय मुख्यमंत्री की अध्यक्षता वाली राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकार की बैठक में लिया जाएगा। स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग इसे लेकर प्राधिकार को अपना प्रस्ताव देगा। शुरू में माध्यमिक व उच्च माध्यमिक कक्षाओं के लिए स्कूल खुल सकते हैं। खासकर मैट्रिक तथा इंटरमीडिएट की परीक्षाओं को लेकर इन कक्षाओं के लिए स्कूल खोलना आवश्यक बताया जा रहा है।

बता दें कि वर्तमान लहर के पूर्व कोरोना के घटते संक्रमण को देखते हुए कक्षा छह से ऊपर की कक्षाओं के लिए स्कूल खुल रहे थे। इस बीच स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग ने कक्षा एक से पांच के लिए भी स्कूल खोलने का दो-दो बार प्रस्ताव राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकार को भेजा था। हालांकि इसकी स्वीकृति नहीं मिल पाई थी।

राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकार ने पहले 15 जनवरी 2022 तक स्कूलों के खुलने पर रोक लगाई थी। अब इसे 31 जनवरी 2022 तक बढ़ा दिया गया है। ऐसे में 30 या 31 जनवरी 2022 को होनेवाली राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकार की बैठक में इसपर स्वीकृति मिल सकती है। हालांकि बैठक में कोरोना के वर्तमान संक्रमण की स्थिति की समीक्षा के बाद ही कोई निर्णय लिया जाएगा।


Leave a Reply

Your email address will not be published.