Breaking :
||IPL 2022 – गुजरात फाइनल में पहुंची, डेविड मिलर ने लगातार तीन छक्के लगाकर दिलाई जीत||आज भारत बंद, जानिए क्या है कारण, कैसा होगा बंद का असर||पलामू: ग्रामीणों ने मतदानकर्मियों को बनाया बंधक, लाठीचार्ज और पथराव||पलामू में दो शक्तिशाली लैंड माइंस बरामद, नक्सल विरोधी अभियान के दौरान CRPF को मिली सफलता||BIG BREAKING : ईडी की टीम ने विशाल चौधरी को किया गिरफ्तार||लोहरदगा: पत्नी ने पति को डंडे से पीट-पीट कर मार डाला||ब्रेकिंग : विशाल चौधरी के ठिकाने पर भारी मात्रा में नकदी बरामद, नोट गिनने की मशीन मंगवाई गई||झारखंडः देवी देवता के खिलाफ अभद्र टिप्पणी पर चक्रधरपुर बंद, 3 आरोपी गिरफ्तार||IPL 2022 – प्लेऑफ़ का पहला मुक़ाबला आज, इस सीजन में हुई छक्कों की बारिश, बना रिकॉर्ड||Breaking : अब रांची के अशोक नगर में ईडी की छापेमारी

धोनी फिर बने चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान, जानिए क्या है वजह

IPL 2022 मे खराब प्रदर्शन के बाद रवींद्र जडेजा ने कप्तानी छोड़ दी है। उन्होंने एक बार फिर कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धोनी को टीम की कप्तानी सौंप दी है। चेन्नई 8 मुकाबले खेलकर केवल 2 मैच जीत दर्ज कर सकी थी। अब बचे हुए मैचों में एक बार फिर से एमएस धोनी कप्तानी करते नजर आएंगे।

CSK की प्रेस रिलीज के मुताबिक, रवींद्र जडेजा ने अपने खेल पर अधिक ध्यान केंद्रित करने के लिए कप्तानी छोड़ने का फैसला किया है और धोनी से चेन्नई टीम का नेतृत्व करने का अनुरोध किया है। धोनी ने टीम के हित में ये अपील स्वीकारी है और खुद कप्तानी संभालने का फैसला लिया है।

चेन्नई सुपर किंग्स का अगला मुकाबला रविवार यानी 1 मई को है। सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ जब चेन्नई सुपर किंग्स मैदान में उतरेगी, तब महेंद्र सिंह धोनी ही टीम की कमान संभालेंगे।

जडेजा की हो रही थी आलोचना

रवींद्र जडेजा आमतौर पर IPL में अच्छा प्रदर्शन करते थे लेकिन कप्तानी के दबाव में उनका प्रदर्शन बेहद खराब रहा। ऐसे में जडेजा की काफी आलोचना हो रही थी। पर किसी को यकीन नहीं था कि सर रवींद्र जडेजा इतना बड़ा फैसला ले सकते हैं।

चौथी बार बदला चेन्नई का कप्तान

जडेजा की कप्तान छोड़ने के बाद धोनी दूसरी बार टीम की कप्तान संभालेंगे। 33 साल के जडेजा 2012 से चेन्नई टीम के साथ हैं। 24 मार्च को धोनी ने अचानक उन्हें कप्तानी सौंपने का ऐलान किया था। तब जडेजा चेन्नई के तीसरे कप्तान बने थे।

आईपीएल के पहले सीजन यानी 2008 से ही महेंद्र सिंह धोनी ही टीम की कमान संभाल रहे थे। धोनी ने 213 मैच में कप्तानी करते हुए टीम को 130 मैच में जीत दिलाई है। बीच में सुरेश रैना ने भी 6 मैचों में कप्तानी की है, जिसमें से टीम ने सिर्फ 2 ही मैच जीते थे।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

रवींद्र जडेजा ने कप्तानी छोड़ दी