भू-माफियाओं ने फर्जी दस्तावेज के सहारे हिंडाल्को को बेच दी किसानों की सैकड़ों एकड़ जमीन

कोरवा जनजाति की जमीन हिंडाल्को इंडस्ट्रीज लिमिटेड चंदवा को बेची

गढ़वा : गढ़वा जिले में भू-माफियाओं ने किसानों की जमीन के साथ बड़ा खेल कर दिया है। यहां जमीन के दलालों ने किसानों के सैकड़ों एकड़ खेती योग्य जमीन का अवैध तरीके से सौदा कर दिया। आदिवासी बहुल इस गांव के निवासियों को इसका पता तब चला जब चौकीदार जमीन का मोटेशन कराने के लिए इश्‍तेहार लेकर गांव पहुंचे. जमीन बिकने की खबर सुनकर ग्रामीणों के पैरों तले जमीन खिसक गई. रैय्यत को पता ही नहीं चला और उनकी जमीन बेच डाली गई.

जिले के रंका प्रखंड में आने वाले अनहर गांव की जमीन हिंडाल्‍को इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड और रामेश्‍वर जूट मिल्‍स लिमिटेड के हाथों बेच दी गई. लैंड माफिया ने फर्जी कागजात बनवा कर इस कांड को अंजाम दिया. हैरानी की बात यह है कि न तो कंपनियों के प्रतिनिधियों और न ही सरकार का इस धोखाधड़ी के बारे में पता चल सका। ग्रामीण अपने काम और घरों में मस्त थे और इधर इनकी जमीन बिचौलियों ने बेच डाली। हैरानी की बात यह है कि न तो कंपनियों के प्रतिनिधियों और न ही सरकार का इस धोखाधड़ी के बारे में पता चल सका.

117.39 एकड़ जमीन का किया सौदा

अनहर गांव में आदिवासी समुदाय कोरवा और यादव जाति के लोग रहते हैं. ग्रामीण अपने काम और घरों में मस्त थे और इधर इनकी जमीन बिचौलियों ने बेच डाली. चौकीदार मोटेशन के लिए जो इश्‍तहार लेकर आए थे, उनमें अनहर गांव के ग्रामीणों की जमीन और घर तक शामिल थे. दोनों समुदाय के कुल 117.39 एकड़ की जमीन की रजिस्ट्री हुई है.

2013-14 में ही बेच दी जमीन

रंका अंचल कार्यालय से नामांतरण का इश्तहार निकला तब जाकर इस फर्जीवाड़े का भेद खुला. ग्रामीणों की जमीन का केवाला हिंडाल्को इंडस्ट्रीज लिमिटेड और रामेश्वर जूट मिल्‍स लिमिटेड के नाम किया गया है. जहां कोरवा जनजाति की जमीन हिंडाल्को इंडस्ट्रीज लिमिटेड चंदवा को बेची गई है, जबकि यादव जाति की जमीन रामेश्वर जूट मिल्‍स लिमिटेड ब्राइबुरु टाटिया भाया बड़ाजामदा पश्चिमी सिंहभूम को वर्ष 2013-14 में ही बेच दी गई है.

सभी 117 एकड़ जमीन को तीन अलग-अलग नाम से रजिस्ट्री के जरिये बेची गई है. इनमें आदिम जनजाति परिवार से आने वाले महावीर कोरवा, शिवनारायण, उमेश, सोमारू, सोहेल की 32 एकड़ जमीन को सीता देवी, श्यामसुन्दर यादव, रामनाथ यादव, विनोद यादव एवं सूर्यदेव (ग्राम सपही रमना) ने हिंडाल्को इंडस्ट्रीज चंदवा को बेच दी.

Leave a Reply