Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर||चतरा: अत्याधुनिक हथियार के साथ TSPC के तीन उग्रवादी गिरफ्तार||लातेहार में बड़ा रेल हादसा, चार यात्रियों की मौत और कई के घायल होने की सूचना||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज
Saturday, June 15, 2024
पलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार जिले में किसी भी सूरत में नशा तस्करी व खेती बर्दाश्त नहीं, पकड़े जाने पर होगी सख्त कार्रवाई : DC

लातेहार : उपायुक्त भोर सिंह यादव की अध्यक्षता में जिला स्तरीय NCORD कमेटी की बैठक आयोजित की गई। बैठक में नशीले पदार्थों की तस्करी की रोकथाम और इसकी खेती पर चर्चा की गई और विभिन्न स्तरों पर समन्वय और सहयोग स्थापित करने के लिए NCORD समिति के सभी सदस्यों को आवश्यक और उचित दिशा-निर्देश दिए गए। इस दौरान पिछली बैठक में लिये गये निर्णयों एवं निर्देशों के क्रियान्वयन की समीक्षा की गयी।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

बैठक के दौरान जिले में अवैध अफीम, भांग की खेती, नशीली दवाओं के सेवन की घटनाओं, चिंता के क्षेत्रों से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर गहन चर्चा की गयी।

उपायुक्त ने जिले में अफीम, भांग व गांजे की खेती और नशीले पदार्थों के खतरे को नियंत्रित करने के लिए किए गए उपायों की जानकारी लेते हुए जिले के सभी खंड विकास अधिकारियों को इस पर लगातार नजर रखने और ऐसी सूचना मिलने पर तुरंत सूचित करने का निर्देश दिया।

उन्होंने आगे कहा कि ड्रग्स और नशीले पदार्थों आदि का सेवन किसी भी समाज के लिए बहुत खतरनाक है। जिले में किसी भी स्थिति में नशा तस्करी व खेती न हो, इसके लिए उन्होंने संबंधित अधिकारी को आवश्यक एवं उचित दिशा-निर्देश दिया।

उन्होंने आगे कहा कि मादक पदार्थों की तस्करी और इसकी खेती में शामिल पाए जाने वालों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जायेगी। उपायुक्त ने सभी खंड विकास अधिकारियों को जिले के सभी ब्लॉकों में संबंधित क्षेत्रों के स्थानीय लोगों को शामिल करते हुए संवेदनशील क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर जागरूकता अभियान शुरू करने को कहा। उपायुक्त ने नशीले पदार्थों के प्रसार, उपभोग और ऐसे नशीले पदार्थों के खिलाफ जागरूकता बढ़ाने पर जोर दिया।

बैठक में पुलिस अधीक्षक अंजनी अंजन, सिविल सर्जन दिनेश कुमार, जिला परिषद अध्यक्ष पूनम देवी, नगर पंचायत अध्यक्ष सीतामणि तिर्की, डीएसपी डॉ. कैलाश करमाली, कृषि पदाधिकारी, समस्त प्रखंड विकास पदाधिकारी सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।