Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर||चतरा: अत्याधुनिक हथियार के साथ TSPC के तीन उग्रवादी गिरफ्तार||लातेहार में बड़ा रेल हादसा, चार यात्रियों की मौत और कई के घायल होने की सूचना||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज
Sunday, June 16, 2024
पलामूपलामू प्रमंडल

पलामू: अंचल अधिकारी ने दर्ज करायी बदसलूकी व सरकारी कार्य में बाधा डालने की प्राथमिकी

पलामू : जिले में तरहसी के अंचल अधिकारी केदारनाथ सिंह के कार्यालय में घुसकर उनसे बदसलूकी करने का मामला सामने आया है। अंचल अधिकारी ने इस संबंध में थाने में मामला दर्ज कराया है, जिसमें गुरहा निवासी 28 वर्षीय अबुदरदा खान समेत 10-15 लोगों को आरोपी बनाया गया है। इस संबंध में अंचल अधिकारी के आवेदन के आधार पर धारा 147, 148, 323, 353, 427, 504 लगायी गयी है।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

आवेदन में अंचल अधिकारी ने कहा है कि 24 मई की सुबह करीब 11.30 बजे अबुदरदा खान 10-15 साथियों के साथ जबरन अंचल कार्यालय में घुस गया और गाली-गलौज करने लगा। उन लोगों ने करीब एक घंटे तक हंगामा किया और सरकारी काम को बाधित किया। अबुदरदा खान बेहद हिंसक था और उसने एक लैपटॉप तोड़ दिया और कई सरकारी कागजात फाड़ दिये। बहुत समझाने पर भी वह समझने को तैयार नहीं था। अंचल अधिकारी ने थाना प्रभारी से अबुदरदा व उसके साथियों पर कार्रवाई करने का आग्रह किया है।

सभी आरोप निराधार : अबुदरदा

इधर, अबुदारदा ने फोन पर कहा कि सीओ द्वारा लगाये गये सभी आरोप निराधार हैं। उन्होंने किसी भी प्रकार की तोड़फोड़ और सरकारी कार्य में बाधा उत्पन्न नहीं की है। अंचल अधिकारी के कार्यालय में सीसीटीवी लगा है। इसके फुटेज से स्थिति स्पष्ट की जा सकती है। अबुदरदा ने कहा कि बेदानी मोड़ का नाम डॉ. भीमराव अंबेडकर चौक करने का लिखित अनुरोध किया गया था। इस बीच वहां परशुराम चौक का बोर्ड लगा दिया गया। मामला एसडीओ के कोर्ट में गया है। वहां से स्थानीय स्तर पर रिपोर्ट मांगी गयी। सीओ ने वह रिपोर्ट भेज दी है। मैं और मेरे साथ आये लोग संबंधित रिपोर्ट की जानकारी लेने गये थे।