Breaking :
||अब झारखंड के सरकारी स्कूलों में हर महीने के तीसरे शनिवार को रहेगी छुट्टी||बिहार: सीएम नीतीश ने दिया इस्तीफा, राजद के साथ सरकार बनाने का दावा||चतरा डीसी अबु इमरान ने किया एक और सांसद का अपमान, लोकसभा स्पीकर के पास दूसरी बार पहुंची शिकायत||अब झारखंड के प्राथमिक विद्यालयों में कक्षाएं संचालित करने में स्थानीय युवाओं की मदद लेगी सरकार||रांची बिरसा मुंडा एयरपोर्ट उड़ाने की धमकी देने वाला आरोपी बिहार से गिरफ्तार||बिहार में सियासी हलचल, नीतीश के पालाबदल की चर्चा, दिल्ली बुलाए गए भाजपा नेता||सुखाड़ को लेकर सरकार गंभीर, स्थिति का जायजा लेने सभी जिलों में भेजे गए अधिकारी||रांची में अपराधियों ने गैस दुकानदार मारी गोली, रिम्स में चल रहा इलाज||माओवादियों के नाम पर लेवी वसूलने आये तीन बदमाश पकड़ाये||झारखंड कैबिनेट में फेरबदल, कांग्रेस के लिए नयी मुसीबत, फूट पड़ने की आशंका बढ़ी

रिम्स जाते समय दिल्ली एयरपोर्ट पर फिर बिगड़ी लालू की तबीयत, एम्स ने लौटाने के बाद उन्हें फिर से इमरजेंसी में किया भर्ती

'

लालू प्रसाद यादव की बिगड़ी तबीयत

पांच डॉक्टरों की टीम कर रही इलाज

लालू प्रसाद यादव की तबीयत एक बार फिर खराब हो गई है। जिसके बाद उन्हें एम्स की इमरजेंसी में रखा गया है। उनकी किडनी और कई अहम टेस्ट किए जा चुके हैं और टेस्ट रिपोर्ट का इंतजार है। लालू प्रसाद रांची जाने के लिए दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचे थे, लेकिन वहां अचानक उनकी तबीयत बिगड़ने लगी। इसके बाद उन्हें एम्स ले जाया गया है। अब एम्स में पांच डॉक्टरों की टीम उनका इलाज कर रही है।

एम्स ने लालू प्रसाद को भर्ती करने से कर दिया था मना

इससे पहले बुधवार सुबह एम्स ने लालू प्रसाद को भर्ती करने से मना कर दिया था और उन्हें रांची रिम्स में ही इलाज कराने की सलाह दी थी। जिसके बाद लालू प्रसाद रांची लौटने के लिए दिल्ली एयरपोर्ट गए। लेकिन एयरपोर्ट पर ही उनकी तबीयत बिगड़ने लगी। तब एम्स ने उन्हें भर्ती करने की अनुमति दी थी, जिसके बाद लालू प्रसाद को यहां लाया गया है।

इससे पहले एम्स ने वापस भेजा था रिम्स

रिम्स में हालत बिगड़ने पर मंगलवार को उन्हें एयर एंबुलेंस से एम्स दिल्ली ले जाया गया। जहां उन्हें रात चार बजे इमरजेंसी वार्ड में ऑब्जर्वेशन में रखने के बाद छुट्टी दे दी गई। साथ ही उन्हें रिम्स के डॉक्टरों से ही इलाज कराने की सलाह दी। तब लालू प्रसाद वापस रांची लौट रहे थे, इस दौरान दिल्ली एयरपोर्ट पर उनकी तबीयत बिगड़ गई और फिर उन्हें फिर से एम्स ले जाया गया।

चारा घोटाले के पांचवें मामले में लालू हैं दोषी करार

चारा घोटाले के सबसे चर्चित डोरंडा कोषागार से 139.35 करोड़ रुपये के गबन के मामले में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद को दोषी करार दिया गया है। सीबीआई की विशेष अदालत ने उन्हें पांच साल कैद और 60 लाख रुपये के जुर्माने की सजा सुनाई है। जिसके बाद लालू प्रसाद होटवार जेल में सजा काट रहे हैं। तबीयत खराब होने के कारण उन्हें रिम्स के पेंईग वार्ड में रखा गया था।

लालू प्रसाद मधुमेह, रक्तचाप, हृदय रोग, गुर्दे की बीमारी, गुर्दे की पथरी, तनाव, थैलेसीमिया, प्रोस्टेट का बढ़ना, यूरिक एसिड में वृद्धि, मस्तिष्क संबंधी रोग, कमजोर प्रतिरक्षा, दाहिने कंधे की हड्डी की समस्या, पैर की हड्डी की समस्या जैसे रोगों से पीड़ित हैं।

हरियाणा से ‘स्कूटर’ पर लाये गये थे भैंस

डोरंडा कोषागार मामले से पहले लालू प्रसाद को देवघर, चाईबासा में दो और दुमका कोषागार से अवैध निकासी मामले में सजा सुनाई जा चुकी है। दुमका मामले में उन्हें सात साल की सजा सुनाई गई है। डोरंडा ट्रेजरी कांड सबसे प्रसिद्ध है क्योंकि इस सीबीआई जांच में पाया गया कि अधिकारी और राजनेता धोखाधड़ी करने के लिए हरियाणा से ‘स्कूटर’ पर भैंस ले गए थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published.