अक्टूबर से बच्चों को लग सकती है कोरोना की वैक्सीन, केंद्र सरकार ने दी मंजूरी

ZyCoV-D वैक्सीन को फिलहाल बच्चों के लिए केंद्र सरकार ने मंजूरी दे दी है और अक्टूबर में बच्चों के लिए टीकाकारण अभियान शुरू हो सकता

नई दिल्‍ली : देश में कोरोना संक्रमण के नए मामलों में भले ही कमी आ गई है लेकिन स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर का खतरा अभी भी बना हुआ है। विशेषकर बच्चों के प्रति विशेष सतर्कता बरती जा रही है। ऐसे में केंद्र सरकार भी अक्टूबर या नवंबर माह से बच्चों में कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम शुरू कर सकती है। मिली जानकारी के अनुसार फिलहाल केंद्र सरकार 12 से 17 साल के बच्चों में टीकाकरण शुरू करना चाहती है।

ऐसे बच्चों को पहले लगेगी वैक्सीन

सूत्रों के मुताबिक मोटापा, दिल की बीमारियों समेत अन्‍य को-मोरबिडिटीज से जूझ रहे बच्चों को पहले कोरोना वैक्सीन दी जाएगी। साथ ही बच्चों के लिए जब कोरोना वैक्सीनेशन अभियान शुरू किया जाएगा तो पहले चरण में 20 से 30 लाख बच्चों को इसमें कवर किया जा सकता है।

बच्चों के लिए सिर्फ ZyCoV-D वैक्सीन को मंजूरी

फिलहाल केंद्र सरकार ने बच्चों के लिए सिर्फ एकमात्र कोरोना वैक्सीन ZyCoV-D को ही मंजूरी दी है। इस वैक्सीन को जायडस कैडिला कंपनी ने तैयार किया है। इस वैक्सीन को आपातकालीन इस्तेमाल के तहत मंजूरी दी गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि हम जायडस कैडिला कंपनी की ओर से सप्लाई शुरू करने का इंतजार कर रहे हैं। जैसी ही सप्लाई शुरू हो जाएगी, बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगाना शुरू कर दिया जाएगा।

बच्चों को 3 डोज में लगेगी ZyCov-D वैक्सीन

पहली खेप में जायडस कैडिला कंपनी करीब 40 लाख डोज सप्‍लाई करेगी। फिर बाद में हर माह 1 करोड़ डोज सप्‍लाई करेगी। कंपनी दिसंबर तक करीब 4-5 करोड़ डोज उपलब्ध कराएगी। बच्चों को ZyCoV-D वैक्सीन की तीन डोज लगेगी।

अभी 3 और वैक्सीन पर चल रहा ट्रायल

फिलहाल देश में बच्चों के लिए 3 और कोरोना वैक्सीन पर ट्रायल चल रहा है। भारत बायोटेक की Covaxin को भी बच्‍चों पर टेस्‍ट किया जा रहा है और जल्द ही क्लिनिकल ट्रायल्‍स पूरा होने वाला है। इसके अलावा बायोलॉजिकल-E और सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया की वैक्सीन को भी मंजूरी दी गई है।

Leave a Reply