Breaking :
||झारखंड: जैक ने शुरू की मैट्रिक व इंटर की सप्लीमेंट्री परीक्षा लेने की तैयारी||पारा शिक्षकों के लिए मूल्यांकन परीक्षा लेने की तैयारी शुरू, जानिये किस स्तर के पूछे जायेंगे प्रश्न||झारखंड: जैक ने शुरू की मैट्रिक व इंटर की सप्लीमेंट्री परीक्षा लेने की तैयारी||पारा शिक्षकों के लिए मूल्यांकन परीक्षा लेने की तैयारी शुरू, जानिये किस स्तर के पूछे जायेंगे प्रश्न||LATEHAR BREAKING: यात्री बस और मोटरसाइकिल की भीषण टक्कर में पिता-पुत्र की मौत, ससुराल से लौटने के दौरान हुआ हादसा||झारखंड के कई जिलों में चार दिनों तक भारी बारिश, गरज के साथ बिजली गिरने की संभावना, येलो अलर्ट जारी||झारखंड के कई जिलों में पांच दिनों तक भारी बारिश, गरज के साथ बिजली गिरने की संभावना, येलो अलर्ट जारी||लातेहार: अनियंत्रित मोटरसाइकिल पेड़ से टकराई, बहन की मौत, भाई गंभीर रूप से घायल||झारखंड के हाईस्कूलों में 12500 शिक्षकों की होगी नियुक्ति, विधि विभाग ने जतायी सहमति||झारखंड के पारा शिक्षकों को जुलाई से मिलेंगे कई लाभ, मूल्यांकन परीक्षा 31 तक

आज भारत बंद, जानिए क्या है कारण, कैसा होगा बंद का असर

'

भारत बंद 25 मई: अखिल भारतीय पिछड़ा और अल्पसंख्यक समुदाय कर्मचारी महासंघ (BAMCEF) ने आज 25 मई को ‘भारत बंद’ की घोषणा की है।

इन मुद्दों पर किया गया है भारत बंद :

चुनाव में ईवीएम का इस्तेमाल नहीं
जाति आधारित जनगणना
पुरानी पेंशन योजना की बहाली
टीकाकरण को वैकल्पिक बनाना
निजी क्षेत्र में एससी/एसटी/ओबीसी आरक्षण।
किसानों को एमएसपी की गारंटी
एनआरसी/सीएए/एनपीआर का कोई कार्यान्वयन नहीं
ओडिशा और मप्र में पंचायत चुनाव में ओबीसी आरक्षण में पृथक निर्वाचक मंडल
पर्यावरण संरक्षण की आड़ में आदिवासी लोगों का विस्थापन नहीं
कोविड -19 लॉकडाउन के दौरान श्रमिकों के खिलाफ गुप्त रूप से बनाए गए श्रम कानूनों के खिलाफ संरक्षण।

यूपी और बिहार में हो सकता है बंद का असर

इसका असर बिहार में देखा जा सकता है, क्योंकि वहां की राजनीति में जाति जनगणना का मुद्दा छाया हुआ है। वहीं, यूपी में ईवीएम का मुद्दा ज्यादा बढ़ रहा है, ऐसे में बंद का असर यूपी में भी देखा जा सकता है। झारखण्ड में भी इस बंद का आंशिक असर देखा जा सकता है।