Breaking :
||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर||एकतरफा प्यार में बाइक सवार मनचले ने स्कूटी सवार युवती को धक्का देकर मार डाला||आजसू ने रामगढ़ विधानसभा सीट से सुनीता चौधरी को मैदान में उतारा||झारखंड में अब मुफ्त नहीं मिलेगा पानी, सरकार को देना होगा 3.80 रुपये प्रति लीटर की दर से वाटर टैक्स||27 फरवरी से 24 मार्च तक झारखंड विधानसभा का बजट सत्र, राज्यपाल की मिली स्वीकृति||लातेहार: ऑपरेशन OCTOPUS के दौरान सुरक्षाबलों को मिली एक और बड़ी सफलता, अत्याधुनिक हथियार समेत भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद||लातेहार: बालूमाथ में विवाहिता की गला रेत कर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

लोहरदगा में माओवादी रवींद्र गंझू के दस्ते के एरिया कमांडर ने किया सरेंडर

Area commander of Maoist Ravindra Ganjhu’s

लोहरदगा : ‘नई दिशा’ के तहत माओवादी संगठन के एरिया कमांडर सूरजनाथ खेरवार ने लोहरदगा के बक्सीडिपा स्थित न्यू पुलिस लाइन में बुधवार को सरेंडर कर दिया। डीसी-एसपी के सामने नक्सली ने सरेंडर किया।

सरेंडर के दौरान सरकार की नीति के तहत दी जाने वाली राशि में से हार्डकोर नक्सली को एक लाख रुपये का चेक और गुलदस्ता भेंट किया गया। नक्सली सूरजनाथ ने आत्मसमर्पण करने के बाद अन्य नक्सलियों से भी बंदूक छोड़कर सरकार की मुख्यधारा में शामिल होने की अपील की है।

हार्डकोर नक्सली पेशरार थाना अंतर्गत बुलबुल गांव निवासी बालकिशुन खेरवार का पुत्र है। नक्सली सूरजनाथ मुख्यधारा से भटककर संगठन में शामिल हो गया था। नक्सली सूरजनाथ पर पेशरार थाना के अलावा सेरेंगदाग, बिशुनपुर और चंदवा थाना में कई मामले दर्ज हैं।

मौके पर डीसी वाघमारे प्रसाद कृष्ण ने कहा कि सरकार की नीति चरमपंथी संगठन के लिए बेहद फायदेमंद है, जो मुख्यधारा से जुड़ने का मौका देती है। कहा कि अन्य उग्रवादियों को सरकार की नीति के तहत इस धारा में शामिल होकर अपनी जिंदगी सुधारने का मौका दिया जाएगा। साथ ही कहा कि यह योजना उन उग्रवादियों के लिए वरदान साबित होगी, जो मुख्यधारा से जुड़कर परिवार का भविष्य संवारने का काम कर सकते हैं।

वहीं एसपी प्रियंका मीणा ने बताया कि डबल बुल ऑपरेशन के तहत अति नक्सल प्रभावित क्षेत्र में जिला पुलिस जगुआर, कोबरा, सैट द्वारा लगातार उग्रवादियों के खिलाफ तलाशी अभियान चलाया जा रहा है. जिसमें मुठभेड़ के दौरान कुछ आतंकियों की जान चली गई और माओवादी संगठन के कुछ उग्रवादियों को गिरफ्तार किया गया.

इसे देखते हुए माओवादी संगठन के एरिया कमांडर सूरजनाथ खेरवार रवींद्र गंजू के दस्ते से बाहर निकल आए और खुद को बचाते हुए प्रशासन के सामने सरेंडर कर दिया। एसपी ने कहा कि डबल बुल अभियान का नाम बुलबुल गांव के नाम पर रखा गया है। इसके तहत नक्सलियों को उन वन क्षेत्रों में संयुक्त तलाशी अभियान में करारा जवाब दिया गया।

Area commander of Maoist Ravindra Ganjhu’s