Breaking :
||बंगाल की खाड़ी में बन रहे लो प्रेशर का झारखंड में असर, ऑरेंज अलर्ट जारी, झमाझम बारिश से लोगों को गर्मी से मिली राहत||जेठानी ने देवरानी पर लगाये गंभीर आरोप, कहा- कल्पना सोरेन के इशारे पर मेरी दोनों बेटियों को मारने की थी कोशिश||गढ़वा: JJMP जोनल कमांडर के नाम पर पूर्व विधायक सत्येंद्र नाथ तिवारी को धमकी||छत्तीसगढ़ में पुलिस के साथ मुठभेड़ में फिर मारे गये सात नक्सली||ED की रिमांड अवधि के दौरान मंत्री आलमगीर आलम का बीपी और शुगर लेवल हाई, स्ट्रेस भी बढ़ा||पलामू: पत्नी के सामने फंदे से झूल गया पति, लगातार झगड़ों से था परेशान||ED ने अब झारखंड सरकार के दो और मंत्रियों को पूछताछ के लिए बुलाया, सियासी गलियारों में हलचल||पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारा गया माओवादी एरिया कमांडर बुधराम मुंडा||लोहरदगा में निर्माणाधीन कुआं धंसने से चार मजदूरों की दबकर मौत||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता का इंडी गठबंधन पर हमला, कहा- कोड वर्ड के जरिये बेच दिया झारखंड को
Friday, May 24, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरलोहरदगा

लोहरदगा में माओवादी रवींद्र गंझू के दस्ते के एरिया कमांडर ने किया सरेंडर

Area commander of Maoist Ravindra Ganjhu’s

लोहरदगा : ‘नई दिशा’ के तहत माओवादी संगठन के एरिया कमांडर सूरजनाथ खेरवार ने लोहरदगा के बक्सीडिपा स्थित न्यू पुलिस लाइन में बुधवार को सरेंडर कर दिया। डीसी-एसपी के सामने नक्सली ने सरेंडर किया।

सरेंडर के दौरान सरकार की नीति के तहत दी जाने वाली राशि में से हार्डकोर नक्सली को एक लाख रुपये का चेक और गुलदस्ता भेंट किया गया। नक्सली सूरजनाथ ने आत्मसमर्पण करने के बाद अन्य नक्सलियों से भी बंदूक छोड़कर सरकार की मुख्यधारा में शामिल होने की अपील की है।

हार्डकोर नक्सली पेशरार थाना अंतर्गत बुलबुल गांव निवासी बालकिशुन खेरवार का पुत्र है। नक्सली सूरजनाथ मुख्यधारा से भटककर संगठन में शामिल हो गया था। नक्सली सूरजनाथ पर पेशरार थाना के अलावा सेरेंगदाग, बिशुनपुर और चंदवा थाना में कई मामले दर्ज हैं।

मौके पर डीसी वाघमारे प्रसाद कृष्ण ने कहा कि सरकार की नीति चरमपंथी संगठन के लिए बेहद फायदेमंद है, जो मुख्यधारा से जुड़ने का मौका देती है। कहा कि अन्य उग्रवादियों को सरकार की नीति के तहत इस धारा में शामिल होकर अपनी जिंदगी सुधारने का मौका दिया जाएगा। साथ ही कहा कि यह योजना उन उग्रवादियों के लिए वरदान साबित होगी, जो मुख्यधारा से जुड़कर परिवार का भविष्य संवारने का काम कर सकते हैं।

वहीं एसपी प्रियंका मीणा ने बताया कि डबल बुल ऑपरेशन के तहत अति नक्सल प्रभावित क्षेत्र में जिला पुलिस जगुआर, कोबरा, सैट द्वारा लगातार उग्रवादियों के खिलाफ तलाशी अभियान चलाया जा रहा है. जिसमें मुठभेड़ के दौरान कुछ आतंकियों की जान चली गई और माओवादी संगठन के कुछ उग्रवादियों को गिरफ्तार किया गया.

इसे देखते हुए माओवादी संगठन के एरिया कमांडर सूरजनाथ खेरवार रवींद्र गंजू के दस्ते से बाहर निकल आए और खुद को बचाते हुए प्रशासन के सामने सरेंडर कर दिया। एसपी ने कहा कि डबल बुल अभियान का नाम बुलबुल गांव के नाम पर रखा गया है। इसके तहत नक्सलियों को उन वन क्षेत्रों में संयुक्त तलाशी अभियान में करारा जवाब दिया गया।

Area commander of Maoist Ravindra Ganjhu’s