Breaking :
||अब झारखंड के सरकारी स्कूलों में हर महीने के तीसरे शनिवार को रहेगी छुट्टी||बिहार: सीएम नीतीश ने दिया इस्तीफा, राजद के साथ सरकार बनाने का दावा||चतरा डीसी अबु इमरान ने किया एक और सांसद का अपमान, लोकसभा स्पीकर के पास दूसरी बार पहुंची शिकायत||अब झारखंड के प्राथमिक विद्यालयों में कक्षाएं संचालित करने में स्थानीय युवाओं की मदद लेगी सरकार||रांची बिरसा मुंडा एयरपोर्ट उड़ाने की धमकी देने वाला आरोपी बिहार से गिरफ्तार||बिहार में सियासी हलचल, नीतीश के पालाबदल की चर्चा, दिल्ली बुलाए गए भाजपा नेता||सुखाड़ को लेकर सरकार गंभीर, स्थिति का जायजा लेने सभी जिलों में भेजे गए अधिकारी||रांची में अपराधियों ने गैस दुकानदार मारी गोली, रिम्स में चल रहा इलाज||माओवादियों के नाम पर लेवी वसूलने आये तीन बदमाश पकड़ाये||झारखंड कैबिनेट में फेरबदल, कांग्रेस के लिए नयी मुसीबत, फूट पड़ने की आशंका बढ़ी

हेरहंज: पुराने चहारदीवारी को दिया जा रहा है नये चहारदीवारी का रूप

'

प्रदीप यादव/हेरहंज

लातेहार : हेरहंज प्रखंड क्षेत्र के चिरु पंचायत के बिजरा ग्राम में पुराने कब्रिस्तान की पुरानी चहारदीवारी को नये चहारदीवारी का रूप दिया जा रहा है। कल्याण विभाग से 23,15,700 लाख रुपये की लागत से चहारदीवारी का निर्माण कराया जा रहा है।

बता दें कि झारखण्ड सरकार द्वारा सरना स्थल, कब्रिस्तान, देवी मंडप स्थल आदि स्थानों पर जहां चहारदीवारी नहीं है, उन स्थानों के लिए नये चहारदीवारी का निर्माण व जहां पूर्व में चहारदीवारी है, वहां जीर्णोद्धार की स्वीकृति दी गई है।

जबकि बिजरा ग्राम के ग्रामीणों का कहना है कि पुराने कब्रिस्तान में पहले ही चहारदीवारी का निर्माण कराया गया है। इसके बावजूद जीर्णोद्धार के स्थान पर नये चहारदीवारी का निर्माण कराया जा रहा है।

झारखंड सरकार के संचिका संख्या-05/ कब्रिस्तान घेराबंदी -01/2021-172 सूची में इस योजना का नाम घेराबंदी के नाम से दर्ज है।

स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया है कि बिचौलियों व विभाग की मिली भगत से पैसे की बंदरबांट करने के लिए इस योजना को स्वीकृत कराया गया है।


Leave a Reply

Your email address will not be published.