Breaking :
||अब झारखंड के सरकारी स्कूलों में हर महीने के तीसरे शनिवार को रहेगी छुट्टी||बिहार: सीएम नीतीश ने दिया इस्तीफा, राजद के साथ सरकार बनाने का दावा||चतरा डीसी अबु इमरान ने किया एक और सांसद का अपमान, लोकसभा स्पीकर के पास दूसरी बार पहुंची शिकायत||अब झारखंड के प्राथमिक विद्यालयों में कक्षाएं संचालित करने में स्थानीय युवाओं की मदद लेगी सरकार||रांची बिरसा मुंडा एयरपोर्ट उड़ाने की धमकी देने वाला आरोपी बिहार से गिरफ्तार||बिहार में सियासी हलचल, नीतीश के पालाबदल की चर्चा, दिल्ली बुलाए गए भाजपा नेता||सुखाड़ को लेकर सरकार गंभीर, स्थिति का जायजा लेने सभी जिलों में भेजे गए अधिकारी||रांची में अपराधियों ने गैस दुकानदार मारी गोली, रिम्स में चल रहा इलाज||माओवादियों के नाम पर लेवी वसूलने आये तीन बदमाश पकड़ाये||झारखंड कैबिनेट में फेरबदल, कांग्रेस के लिए नयी मुसीबत, फूट पड़ने की आशंका बढ़ी

सरहुल पूजा को लेकर हेरहंज थाना में शांति समिति की बैठक, शराब व शराबियों पर रहेगी पुलिस की पैनी नजर

'

प्रदीप यादव/हेरहंज

लातेहार : हेरहंज थाना परिसर में सरहुल पूजा को लेकर बीडीओ प्रदीप कुमार दास व एसडीपीओ अजीत कुमार की संयुक्त अध्यक्षता में शांति समिति की बैठक हुई।

सरहुल शोभा यात्रा पिछले दो साल से कोविड-19 के कारण प्रभावित थी। इस साल झारखंड सरकार ने सरहुल और रामनवमी के जुलूस को हरी झंडी दे दी है।

बैठक में एसडीपीओ श्री कुमार ने सरहुल पूजा को लेकर सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों की विस्तृत जानकारी दी। श्री कुमार ने लोगों से यह सुनिश्चित करने की अपील की कि किसी भी हाल में शाम छह बजे तक जुलूस समाप्त हो जाए। डीजे साउंड पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगी। पारंपरिक रीति-रिवाजों के अनुसार नगाड़े मांदर के साथ जुलूस निकालने की हरी झंडी दी गई है।

उन्होंने बताया कि चार अप्रैल की रात 12 बजे से नक्सली संगठन भाकपा माओवादियों का बंदी है। इसे देखते हुए जल्द ही जुलूस को समाप्त करने के निर्देश दिए गए। शराब व शराबियों पर पुलिस की पैनी नजर रहेगी।

बैठक में मुख्य रूप से एसआई अभिषेक कुमार, कैलाश कुमार मण्डल, पंचायत जनप्रतिनिधि राजनीतिक दल प्रतिनिधि के नेता सहित दर्जनों लोग उपस्थित थे।