Breaking :
||घास काटने गयी 50 वर्षीय महिला के साथ पुलिसकर्मियों ने की हैवानियत, गैंगरेप के बाद गुप्तांग पर पैरों से हमला||लातेहार: कठपुलिया लूट का चंद घंटों में खुलासा, चार लुटेरे हथियार व सामान के साथ गिरफ्तार||दुमका में फिर सनकी प्रेमी ने युवती को जिंदा जलाया, रिम्स पहुंचने से पहले हुई मौत||पलामू में जन वितरण प्रणाली दुकानदार की गोली मारकर हत्या, पुलिस कर रही जांच||लातेहार: युवक हत्याकांड का खुलासा, भाभी ने ही करा दी देवर की हत्या, दो आरोपी गिरफ्तार||थर्ड रेल लाइन निर्माण कार्य में लगी कंपनी के साइट पर नक्सलियों का उत्पात, फायरिंग कर जेसीबी में लगायी आग||दुर्गा पूजा पर आयोजित कार्यक्रम देख लौट रही नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म||हजारीबाग: तीर्थयात्रियों से भरे बस और ट्रक की सीधी टक्कर में 4 की मौत, 30 घायल||लातेहार: ढाबा चलाने की आड़ में अफीम व डोडा पाउडर बेचने के आरोप में ढाबा संचालक गिरफ्तार||रांची: गैस रिफिलिंग की दुकान में रखे सिलेंडर में हुए विस्फोट से चार दुकानें जलकर राख

लातेहार: जंगली हाथियों ने महिला को कुचलकर मार डाला, कई घरों को किया क्षतिग्रस्त, ग्रामीणों में दहशत

'

latehar elephant news

लातेहार : चंदवा प्रखंड अंतर्गत चकला पंचायत के तिलैयादामर गांव में देर रात जंगली हाथियों ने जमकर उत्पात मचाया। इस दौरान हाथियों ने एक ग्रामीण महिला को कुचलकर मार डाला। साथ ही कई घरों में तोड़फोड़ भी की।

मृतका की पहचान जिरवा देवी पति स्व मनशा गंझू के रूप में हुई है।

बताया जाता है कि शुक्रवार की देर रात जंगली हाथी मृतका के घर पर हमला कर तोड़फोड़ करने लगे। इसे देख हाथियों के भय से महिला अपनी जान बचाने के लिए घर से बाहर निकल कर भागने लगी तभी हाथियों ने उसे अपनी चपेट में ले लिया और पटक-पटककर मार डाला।

बता दें कि करीब 20 दिनों से हाथी इस इलाके में दहशत फैला रहे थे। जान-माल की रक्षा के लिए वन विभाग से लगातार हाथियों को क्षेत्र से बाहर निकालने की मांग की जा रही थी। लेकिन वन विभाग हाथी को इलाके से नहीं भगा सका, आखिर आज फिर हाथियों ने एक महिला की जान ले ली।

यदि वन विभाग बंगाल आदि जगहों से प्रशिक्षित टीम बुलाकर हाथी को इस इलाके से खधेड़कर सुरक्षित स्थान पहुंचा देती तो इस घटना को टाला जा सकता था।

इस घटना से पूरे इलाके में भय का माहौल है। ग्रामीण हाथियों के भय से रात में सो नहीं पा रहे हैं। अभी भी हांथी इसी इलाके में हैं। लोगों की जान का खतरा बना हुआ है। यदि हाथियों को भगाने को लेकर वन विभाग जल्द ही कोई कार्रवाई नहीं करती है तो अंजाम और भयावह हो सकता है।

इधर, घटना के बाद कांग्रेस जिलाध्यक्ष मुनेश्वर उरांव, झामुमो के केंद्रीय समिति सदस्य दीपू कुमार सिन्हा, कॉग्रेस प्रखंड अध्यक्ष असगर खान, माकपा नेता अयुब खान ने मौत पर दुख प्रकट किया एवं परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

आगे कहा कि हम सब ने ऑफिस जाकर डीएफओ से मुलाकात की और उससे कहा कि साहब, हाथी को इस इलाके से भगाइये वरना किसी दिन हाथी इंसान की जान को नुकसान पहुंचाएगा। लेकिन किसी तरह की कार्रवाई नहीं की गयी। जिसका डर था आज वही हुआ।

बता दें कि दो दिन पूर्व ही डीएफओ रौशन कुमार ने इलाके का दौरा कर हाथियों को भगाने को लेकर ग्रामीणों को आश्वासन दिया था।

latehar elephant news

https://thenewssense.in/category/latehar

https://www.facebook.com/newssenselatehar


Leave a Reply

Your email address will not be published.