Breaking :
||झारखंड के 248 पारा शिक्षक गायब, 232 ने छोड़ी नौकरी, 5 दिसंबर तक मिला मौका||झारखंड में छह साल से नहीं हुई जेटेट परीक्षा, हाईकोर्ट में याचिका दायर||मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार समेत चार के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी||मुख्यमंत्री विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा को नहीं मिली जमानत||लातेहार: बालूमाथ में कोयला कारोबारियों से व्हाट्सएप कॉल कर रंगदारी मांगने वाला TSPC का एरिया कमांडर गिरफ्तार, भेजा जेल||हेमंत सरकार तीन वर्ष पूरे होने पर सुखाड़ प्रभावित 22 जिलों के किसानों को देगी तोहफा, आवेदन शुरू||झारखंड: ऑनलाइन गेम में मिली हार से परेशान बच्चे ने कर ली खुदकुशी, माता-पिता हो जायें सावधान!||पलामू में नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म, वीडियो वायरल करने की धमकी देकर किया शारीरिक शोषण||बूढ़ा पहाड़ से फिर मिले 12 केन IED बम, किया गया नष्ट||सीओ हेमा प्रसाद व अन्य के खिलाफ होगी ACB जांच, सीएम हेमंत सोरेन ने दी मंजूरी

लातेहार: जिले के विभिन्न पर्यटन स्थल होंगे विकसित, कर्नाटक की तर्ज पर बदला जाएगा हिंसक हाथियों का व्यवहार

Latehar Tourism Development

उपायुक्त की अध्यक्षता में जिला पर्यटन प्रोत्साहन समिति की बैठक, जिले के पर्यटन स्थलों को विकसित करने पर विमर्श

लातेहार : उपायुक्त अबु इमरान की अध्यक्षता में जिला पर्यटन संवर्धन समिति की बैठक हुई। बैठक में जिले के विभिन्न पर्यटन स्थलों को विकसित कर स्थानीय लोगों के लिए रोजगार के अवसर पैदा करने पर चर्चा हुई।

उपायुक्त ने बताया कि बरवाडीह प्रखंड स्थित केचकी संगम में बड़ी संख्या में पर्यटक आते हैं। केचकी संगम में पर्यटकों के लिए सुविधाएं विकसित करने से पर्यटकों की संख्या बढ़ेगी और स्थानीय ग्रामीणों को रोजगार और आय के बेहतर अवसर मिलेंगे। उपायुक्त ने उप निदेशक पीटीआर के समन्वय से केचकी संगम में पर्यटकों के लिए टेंट, रेस्टोरेंट, पेयजल एवं शौचालय की सुविधा विकसित करने के निर्देश दिये।

उपायुक्त ने ततहापानी में चेंजिंग रूम, शौचालय, पेयजल, शौचालय बेंच की सुविधा विकसित करने के निर्देश दिए।

इसके अलावा उपायुक्त ने चेताग डैम एवं डाटम-पाटम में पथ निर्माण, बेंच व लाइट लगाने के निर्देश दिए।

उपायुक्त ने ललमटिया डैम में मनोरंजन पार्क, पुल और वॉच टावर के निर्माण कार्य को जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश दिए।

इसके साथ ही उपायुक्त ने जगराहा डैम के सौंदर्यीकरण का काम जल्द शुरू करने के निर्देश दिए।

बैठक में उप निदेशक पीटीआर कुमार आशीष ने कहा कि लातेहार जिले के कई गांवों में कुछ हाथियों द्वारा मानव जीवन, घरों और फसलों को बार-बार नुकसान पहुंचाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हिंसक हाथियों के व्यवहार को बदलने के लिए कर्नाटक में एक पुनर्वास केंद्र स्थापित किया गया है। उन्होंने कहा कि लातेहार जिले में हिंसक हाथियों के लिए पुनर्वास केंद्र का निर्माण हाथियों द्वारा जान-माल की हानि को रोकने के लिए एक उचित कदम होगा।

उपायुक्त लातेहार ने इस संबंध में उचित अध्ययन कर प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए।

बैठक में परियोजना निदेशक आईटीडीए, जिला योजना अधिकारी संतोष भगत, नोडल अधिकारी पर्यटन प्रकोष्ठ शिवेन्द्र कुमार सिंह, कार्यपालक अभियंता ग्रामीण कार्य प्रमंडल दीपक कुमार, कार्यपालक अभियंता भवन निर्माण अभय कुमार राय सहित अन्य उपस्थित थे।

Latehar Tourism Development


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *