Breaking :
||पलामू में बिजली गिरने से तीन किशोर की मौत, बारिश से बचने के लिए पेड़ के नीचे छिपे थे||रांची में करंट लगने से एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत, तिरंगा लगाने के दौरान हुआ हादसा||15 अगस्त को झारखंड के 26 पुलिसकर्मियों को विभिन्न सेवाओं के लिए मेडल||रांची में नकली नोटों के तस्कर को पकड़ने गई दिल्ली पुलिस पर ग्रामीणों ने किया हमला, बनाया बंधक||झारखंड जल्द होगा सूखाग्रस्त घोषित, सभी मापदंडों पर तैयार हो रही रिपोर्ट||लातेहार: विद्यालय से उर्दू शब्द हटाए जाने पर मुस्लिम समुदाय में आक्रोश, किया प्रदर्शन||मुख्य धारा में लौटे नक्सलियों के सम्मान समारोह में अधिकारियों ने कहा- सरकार की सेरेंडर पॉलिसी का लाभ उठाएं नक्सली||लातेहार : खेत में धान बो रहे किसान पर गिरी बिजली, पति-पत्नी की मौके पर ही मौत||झारखंड भाजपा को मिलेगा नया प्रदेश अध्यक्ष, नियुक्ति को लेकर कई नामों पर चर्चा||अब झारखंड के बिजली उपभोक्ताओं को मिलेगी 100 यूनिट मुफ्त बिजली

पलामू प्रमंडल के लातेहार जिले को एनएसएस का ओरिएंटेशन सह प्रशिक्षण कार्यक्रम देना गौरव की बात : बैद्यनाथ राम

'

दीपक मिश्रा/लातेहार

बीएस कॉलेज में आयोजित राष्ट्रीय सेवा योजना उन्मुखीकरण का दो दिवसीय कार्यशाला संपन्न

लातेहार : नीलांबर-पीतांबर विश्वविद्यालय और बनवारी साहू कॉलेज के तत्वावधान में आयोजित एनएसएस (राष्ट्रीय सेवा योजना) का दो दिवसीय उन्मुखीकरण-सह-नेतृत्व प्रशिक्षण और सांस्कृतिक संध्या कार्यक्रम शुक्रवार को संपन्न हुआ।

सांस्कृतिक संध्या कार्यक्रम में स्थानीय विधायक बैजनाथ राम मौजूद थे, जबकि कार्यक्रम के दूसरे दिन एनएसएस बिहार झारखंड के क्षेत्रीय निदेशक पीयूष परांजपे मौजूद थे। इस अवसर पर आयोजित सांस्कृतिक संध्या कार्यक्रम में एनएसएस के स्वयंसेवकों ने गीत, नृत्य और नाटक की उत्कृष्ट प्रस्तुति दी।

एनएसएस के बालक-बालिकाओं ने देशभक्ति, दहेज प्रथा, बेटी बचाओ, जल संरक्षण, नशा मुक्ति व अन्य विषयों पर प्रस्तुतियां देकर शमां में चार चांद लगा दिया।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि स्थानीय विधायक बैजनाथ राम ने कहा कि पलामू प्रमंडल के लातेहार जिले को एनएसएस का ओरिएंटेशन सह प्रशिक्षण कार्यक्रम दिया गया, यह लातेहार के लिए गौरव की बात है। इसके लिए उन्होंने नीलांबर-पीतांबर विश्वविद्यालय के प्रति आभार व्यक्त किया।

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना बच्चों में सेवा की भावना जगाती है, समाज में लोगों की मदद करना सिखाती है और यह स्वयंसेवकों में भी दिखाई देता है। उन्होंने कार्यक्रम की सफलता के लिए बीएस कॉलेज और एनएसएस की पूरी टीम को बधाई दी।

कार्यक्रम के दूसरे दिन एनएसएस बिहार झारखंड के क्षेत्रीय निदेशक पीयूष परांजपे मौजूद थे। उन्होंने स्वयंसेवकों और कार्यक्रम अधिकारी के बीच शैक्षिक प्रशिक्षण में भाग लिया और एनएसएस के संबंध में नई जानकारी दी।

सांस्कृतिक संध्या कार्यक्रम में योध सिंह महिला महाविद्यालय मेदिनीनगर ने प्रथम, एमके कॉलेज पांकी ने द्वितीय व बनवारी साहू कॉलेज ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

सर्वश्रेष्ठ एनएसएस वालंटियर (लड़का) का पुरस्कार एमके कॉलेज, पांकी के प्रदीप कुमार को दिया गया, सर्वश्रेष्ठ एनएसएस वालंटियर (लड़की) का पुरस्कार योध सिंह नामधारी महाविद्यालय की गार्गी को दिया गया।

सर्वश्रेष्ठ कार्यक्रम अधिकारी (पुरुष) बनवारी साहू के नवल किशोर प्रसाद और योध सिंह नामधारी कॉलेज की सीमा कुमारी को सर्वश्रेष्ठ कार्यक्रम अधिकारी (महिला) का पुरस्कार दिया गया।

क्षेत्रीय निदेशक पीयुष परांजपे ने सभी को प्रमाण- पत्र का भी वितरण किया। इस अवसर पर राज्य नोडल पदाधिकारी डा ब्रजेश कुमार, विनोबा भावे विष्वविद्यालय की डा रूफिना तिर्की, नीलाम्बर पीताम्बर विश्वविद्यालय के समन्वयक डा विभेष चौबे, प्राचार्य पीके तिवारी, सचिव अंजू गुप्ता, अमरेश पांडेय, नरेश पांडेय सहित अन्य शिक्षकगण ‌एवं कर्मचारीगण उपस्थित थे।

क्षेत्रीय निदेशक पीयूष परांजपे ने भी सभी को प्रमाण पत्र वितरित किए। इस अवसर पर राज्य नोडल अधिकारी डॉ. ब्रजेश कुमार, विनोबा भावे विश्वविद्यालय की डॉ. रूफिना तिर्की, नीलांबर पीतांबर विश्वविद्यालय के समन्वयक डॉ. विभेश चौबे, प्राचार्य पीके तिवारी, सचिव अंजू गुप्ता, अमरेश पांडे, नरेश पांडेय सहित अन्य शिक्षक व कर्मचारी मौजूद रहे।