Breaking :
||झारखंड के 248 पारा शिक्षक गायब, 232 ने छोड़ी नौकरी, 5 दिसंबर तक मिला मौका||झारखंड में छह साल से नहीं हुई जेटेट परीक्षा, हाईकोर्ट में याचिका दायर||मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार समेत चार के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी||मुख्यमंत्री विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा को नहीं मिली जमानत||लातेहार: बालूमाथ में कोयला कारोबारियों से व्हाट्सएप कॉल कर रंगदारी मांगने वाला TSPC का एरिया कमांडर गिरफ्तार, भेजा जेल||हेमंत सरकार तीन वर्ष पूरे होने पर सुखाड़ प्रभावित 22 जिलों के किसानों को देगी तोहफा, आवेदन शुरू||झारखंड: ऑनलाइन गेम में मिली हार से परेशान बच्चे ने कर ली खुदकुशी, माता-पिता हो जायें सावधान!||पलामू में नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म, वीडियो वायरल करने की धमकी देकर किया शारीरिक शोषण||बूढ़ा पहाड़ से फिर मिले 12 केन IED बम, किया गया नष्ट||सीओ हेमा प्रसाद व अन्य के खिलाफ होगी ACB जांच, सीएम हेमंत सोरेन ने दी मंजूरी

हेरहंज : जीजा साले की लड़ाई में चाचा ससुर की हुई मौत

प्रदीप यादव/हेरहंज

हेरहंजआपसी विवाद में हुई गोलीबारी में एक व्यक्ति की मौत हो गई। मामला हेरहंज प्रखंड के चिरु गांव की है। बुधवार की रात चंदवा निवासी रविंद्र गंझू उर्फ रवि गंझू हेरहंज पंचायत के चिरु गांव स्थित अपने ससुराल आया था। ससुराल में पार्टी थी। पार्टी में रवि गंझू का साला बबलू गंझू भी मौजूद था। किसी बात पर रवि और बबलू में विवाद हो गया। इसी बीच रवि अपने हथियार से बबलू गंझू पर फायरिंग करने लगा।

गोलियों की आवाज सुनकर रवि के चाचा ससुर संतोष गंझू बीच बचाओ करने आये। इस दौरान संतोष गंजू के गुप्तांग में चोट लग गई। जिससे वह जमीन पर गिर गए। गिरने से उनके सिर पर चोट लग गई। जिससे घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गई। इसके बाद उग्र लोगों ने रवि गंझू की पिटाई कर दी। मृतक संतोष गंजू वर्तमान में उत्क्रमित उच्च विद्यालय चिरु में सहायक शिक्षक के पद पर कार्यरत थे।

मृतक का फ़ाइल फोटो

घटना की सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस

घटना के बाद लोगों ने मामले की सूचना तत्काल हेरहंज थाना को दी। सूचना मिलते ही पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर शव को कब्जे में ले लिया। साथ ही लोगों की पिटाई से घायल रवि को इलाज के लिए बालूमाथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया। वहां प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए उसे चिकित्सकों ने लातेहार सदर अस्पताल रेफर कर दिया। पुलिस ने घटनास्थल से हथियार बरामद किए हैं।

हेरहंज