Breaking :
||झारखंड के 248 पारा शिक्षक गायब, 232 ने छोड़ी नौकरी, 5 दिसंबर तक मिला मौका||झारखंड में छह साल से नहीं हुई जेटेट परीक्षा, हाईकोर्ट में याचिका दायर||मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार समेत चार के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी||मुख्यमंत्री विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा को नहीं मिली जमानत||लातेहार: बालूमाथ में कोयला कारोबारियों से व्हाट्सएप कॉल कर रंगदारी मांगने वाला TSPC का एरिया कमांडर गिरफ्तार, भेजा जेल||हेमंत सरकार तीन वर्ष पूरे होने पर सुखाड़ प्रभावित 22 जिलों के किसानों को देगी तोहफा, आवेदन शुरू||झारखंड: ऑनलाइन गेम में मिली हार से परेशान बच्चे ने कर ली खुदकुशी, माता-पिता हो जायें सावधान!||पलामू में नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म, वीडियो वायरल करने की धमकी देकर किया शारीरिक शोषण||बूढ़ा पहाड़ से फिर मिले 12 केन IED बम, किया गया नष्ट||सीओ हेमा प्रसाद व अन्य के खिलाफ होगी ACB जांच, सीएम हेमंत सोरेन ने दी मंजूरी

माओवादियों का सहयोगी बताकर आदिवासी किसान की पिटाई मामले में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने लिया संज्ञान, दोषियों पर कारवाई का दिया आदेश

Latehar News Hemant Soren

गोपी कुमार सिंह/लातेहार

लातेहार : जिले के गारू थाना प्रभारी रंजीत कुमार यादव के द्वारा माओवादियों का मददगार बताकर गारू थाना क्षेत्र के कुकु गांव निवासी 42 वर्षीय आदिवासी किसान अनिल सिंह की पिटाई मामले में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने संज्ञान लिया है.

संबंधित मामले को लेकर अविनाश चंचल नामक ट्विटर यूजर के पोस्ट को मुख्यमंत्री ने झारखंड पुलिस को टैग कर कहा है कि मामले का तत्काल संज्ञान लेते हुए दोषियों के खिलाफ कड़ी कारवाई करते हुए सूचित करें।

गौरतलब हो कि थाना प्रभारी के द्वारा अनिल सिंह की पिटाई से उसके शरीर के पिछले हिस्सों में कई गहरे निशान पड़ गये हैं. घटना बुधवार अर्द्धरात्रि की है.

अनिल का आरोप है कि बुधवार की रात तकरीबन एक बजे गारू थाना प्रभारी उसके घर आये और उसे थाने लेकर जाकर पार्टी वाले को मदद करने का आरोप लगाते हुए लगभग तीन से चार सौ लाठियां उसके शरीर के पिछले हिस्से में मारी गयी. जिससे उसके शरीर पर कई निशान बन गये हैं.

अनिल ने कहा कि थाना प्रभारी ने पिटाई करने के बाद कहा कि गलती से तुम्हें थाना लाया गया था. थाना प्रभारी ने उसे इलाज का खर्च देने की बात कहकर छोड़ दिया था.

बहरहाल पूरे मामले को लेकर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सख्त नजर आ रहे है. उन्होंने जांचकर दोषियों पर कड़ी कारवाई का आदेश दिया है. अब यह देखना दिलचस्प होगा कि आरोपी थानेदार रंजीत कुमार यादव पर क्या कुछ कार्रवाई होती है।

Latehar News Hemant Soren


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *