Breaking :
||झारखंड की चार लोकसभा सीटों पर 62.13 फीसदी वोटिंग, सबसे अधिक जमशेदपुर, सबसे कम रांची में मतदान||झारखंड में कल से दिखेगा चक्रवाती तूफान ‘रेमल’ का असर, लातेहार, गढ़वा, पलामू व चतरा जिले में भी असर||लातेहार: दुकान में चोरी करने आये तीन चोर आग में झुलसे, एक की मौत, दो गंभीर||झारखंड की चार लोकसभा सीटों पर वोटिंग कल, 82 लाख मतदाता करेंगे 93 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला||पलामू: तत्कालीन एसपी के फर्जी हस्ताक्षर से बने 12 चरित्र प्रमाण पत्र, बड़ा गिरोह सक्रिय||ED की टीम फिर पहुंची आलमगीर आलम के पीएस संजीव लाल के नौकर जहांगीर के घर||झारखंड: ज्वैलर्स शोरूम से दो लाख रुपये नकद समेत 50 लाख के आभूषण की लूट||निशिकांत दुबे के खिलाफ चुनाव आयोग से शिकायत||लातेहार: चुनाव कार्य में लापरवाही बरतने वाले 9 कर्मियों पर प्राथमिकी दर्ज||बंगाल की खाड़ी में बन रहे लो प्रेशर का झारखंड में असर, ऑरेंज अलर्ट जारी, झमाझम बारिश से लोगों को गर्मी से मिली राहत
Sunday, May 26, 2024
चंदवालातेहार

चंदवा: पुलिस और झामुमो नेता की पहल पर दो पक्षों में गहराया विवाद सुलझा, बड़ी अनहोनी टली

लातेहार : चंदवा प्रखंड अंतर्गत माल्हन पंचायत के केकराही गांव में तालाब मरम्मत योजना को लेकर जितेंद्र गंझू, विजय गंझू और दूसरा पक्ष भीम गंझू, अर्जुन गंझू, गंगाधर गंझू, मंटू गंझू, जयमंगल गंझू, मनोज गंझू आमने-सामने आ गए।

पहले पक्ष जितेंद्र गंझू तालाब की जमीन पर दावा कर रहे थे, वहीं दूसरी तरफ भीम गंझू व अन्य इसे सरकारी जमीन बता रहे थे। इसे लेकर दोनों पक्षों के बीच विवाद और गहरा गया।

इसके समाधान के लिए ग्रामीणों ने गांव में ग्राम सभा भी की, लेकिन पहले पक्ष ने नहीं सुनी. यहां एक सप्ताह तक विवाद बढ़ता गया और मामले को लेकर पहला पक्ष थाने पहुंच गया। जिसके बाद दूसरे पक्ष के लोगों को भी थाने में बुलाया गया।

इसकी जानकारी ग्रामीणों ने झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य दीपू कुमार सिन्हा को भी दी। श्री सिन्हा ने ग्रामीणों को थाने पहुंचने की सलाह दी। इसके बाद दूसरे पक्ष सहित गांव के सैकड़ों लोग ग्रामीण थाने पहुंचे। श्री सिन्हा ने पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी आशुतोष कुमार को मामले में उत्पन्न विवाद से अवगत कराया।

इसके बाद निरीक्षक सह थाना प्रभारी, झामुमो नेता व पंचायत समिति सदस्य कांति देवी, मुखिया मानती देवी, उप मुखिया बिरसी देवी समेत सैकड़ों ग्रामीणों की मौजूदगी में फिर बैठक हुई। इसमें दोनों पक्षों ने आपसी सहमति से उपजे विवाद को सुलझा लिया है। विवाद शांत होने के बाद ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है।

बैठक में रूपलाल गंझू, बबीता देवी, रामकिशुन गंझू, लक्ष्मण गंझू, दिलीप गंझू, हरिलाल गंझू समेत सैकड़ों ग्रामीण मौजूद थे।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें