Breaking :
||पलामू: नाबालिग दिव्यांग युवती से दुष्कर्म, मामला दर्ज||राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव का किडनी ट्रांसप्लांट सफल, देखें बेटे तेजस्वी द्वारा शेयर किया वीडियो||गैंगस्टर गोपाल शार्क शूटर के नाम से पोस्टर चस्पा कर रंगदारी मांगने के मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को पकड़ा, हथियार बरामद||गुमला की लड़की को लातेहार के लड़के से Facebook पर हुआ प्यार, शादी का झांसा देकर किया यौन शोषण, रूपये भी ठगे||आंखों के इलाज के लिए विनीत को मिली विधायक निधि से 50 हजार की मदद, विनीत ने जताया विधायक के प्रति आभार||लातेहार: सुधा सिन्हा स्कूल के डायरेक्टर के घर पर अज्ञात अपराधियों ने किया हमला, दी जान से मारने की धमकी||रांची: उड़ान IAS अकादमी के डायरेक्टर अरुण अग्रवाल पर जानलेवा हमला, लातेहार अम्बाकोठी के हैं निवासी||सीएम हेमंत सोरेन की नहीं होगी गिरफ्तारी, ईडी के पास कोई पुख्ता सबूत नहीं||झारखंड से कोरोना की विदाई, सभी जिले कोरोना मुक्त घोषित||झारखंड: प्रमाण पत्र सत्यापन नहीं कराने वाले सहायक अध्यापक होंगे कार्यमुक्त

चंदवा: पुलिस और झामुमो नेता की पहल पर दो पक्षों में गहराया विवाद सुलझा, बड़ी अनहोनी टली

लातेहार : चंदवा प्रखंड अंतर्गत माल्हन पंचायत के केकराही गांव में तालाब मरम्मत योजना को लेकर जितेंद्र गंझू, विजय गंझू और दूसरा पक्ष भीम गंझू, अर्जुन गंझू, गंगाधर गंझू, मंटू गंझू, जयमंगल गंझू, मनोज गंझू आमने-सामने आ गए।

पहले पक्ष जितेंद्र गंझू तालाब की जमीन पर दावा कर रहे थे, वहीं दूसरी तरफ भीम गंझू व अन्य इसे सरकारी जमीन बता रहे थे। इसे लेकर दोनों पक्षों के बीच विवाद और गहरा गया।

इसके समाधान के लिए ग्रामीणों ने गांव में ग्राम सभा भी की, लेकिन पहले पक्ष ने नहीं सुनी. यहां एक सप्ताह तक विवाद बढ़ता गया और मामले को लेकर पहला पक्ष थाने पहुंच गया। जिसके बाद दूसरे पक्ष के लोगों को भी थाने में बुलाया गया।

इसकी जानकारी ग्रामीणों ने झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य दीपू कुमार सिन्हा को भी दी। श्री सिन्हा ने ग्रामीणों को थाने पहुंचने की सलाह दी। इसके बाद दूसरे पक्ष सहित गांव के सैकड़ों लोग ग्रामीण थाने पहुंचे। श्री सिन्हा ने पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी आशुतोष कुमार को मामले में उत्पन्न विवाद से अवगत कराया।

इसके बाद निरीक्षक सह थाना प्रभारी, झामुमो नेता व पंचायत समिति सदस्य कांति देवी, मुखिया मानती देवी, उप मुखिया बिरसी देवी समेत सैकड़ों ग्रामीणों की मौजूदगी में फिर बैठक हुई। इसमें दोनों पक्षों ने आपसी सहमति से उपजे विवाद को सुलझा लिया है। विवाद शांत होने के बाद ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है।

बैठक में रूपलाल गंझू, बबीता देवी, रामकिशुन गंझू, लक्ष्मण गंझू, दिलीप गंझू, हरिलाल गंझू समेत सैकड़ों ग्रामीण मौजूद थे।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें