Breaking :
||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर||एकतरफा प्यार में बाइक सवार मनचले ने स्कूटी सवार युवती को धक्का देकर मार डाला||आजसू ने रामगढ़ विधानसभा सीट से सुनीता चौधरी को मैदान में उतारा||झारखंड में अब मुफ्त नहीं मिलेगा पानी, सरकार को देना होगा 3.80 रुपये प्रति लीटर की दर से वाटर टैक्स||27 फरवरी से 24 मार्च तक झारखंड विधानसभा का बजट सत्र, राज्यपाल की मिली स्वीकृति||लातेहार: ऑपरेशन OCTOPUS के दौरान सुरक्षाबलों को मिली एक और बड़ी सफलता, अत्याधुनिक हथियार समेत भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद||लातेहार: बालूमाथ में विवाहिता की गला रेत कर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

यूक्रेन से वापस लौटी बरवाडीह की राजनंदिनी, परिजनों ने सरकार का जताया आभार

Barwadih Rajnandini Ukraine

शशि शेखर/बरवाडीह

लातेहार : यूक्रेन-रूस युद्ध के दौरान बिगड़े हालात के बीच बरवाडीह प्रखंड की मेडिकल की छात्रा राजनंदिनी फंस गई थी। जिसके वापस भारत लाने को लेकर परिवार के लोगों के साथ-साथ स्थानीय सांसद और विधायक समेत कई अन्य जनप्रतिनिधियों के द्वारा केंद्र सरकार और विदेश मंत्रालय से लगातार गुहार लगाई गयी थी।

जिसके बाद केंद्र सरकार के ऑपरेशन गंगा अभियान के तहत बरवाडीह के बाजार निवासी मनोज प्रसाद की बेटी राजनंदनी की भारत वापसी हुई। वह बुधवार की सुबह दिल्ली से रांची जाने वाली गरीब रथ ट्रेन से डाल्टनगंज पहुंची।

इस दौरान राजनंदिनी के माता-पिता, हीरो शोरूम के मालिक मुकेश कुमार और स्थानीय पत्रकार रवि गुप्ता ने रेलवे स्टेशन पर स्वागत करते हुए शॉल भेंट कर सम्मानित किया। बरवाडीह पहुंचने के बाद प्रखंड विकास पदाधिकारी के निर्देश पर राजनंदनी और उनके पूरे परिवार का प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ आशीष रंजन के द्वारा कोविड-19 जांच किया गया। जहां सभी की रिपोर्ट नेगेटिव आई ।

यूक्रेन के कीव में कर रही थी एमबीबीएस

राजनंदनी यूक्रेन के किस शहर में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रही थी। युक्रेन में युद्ध से हालात बिगड़ने के बाद वह लगातार भारतीय दूतावास के संपर्क में थी। भारतीय दूतावास की सहायता से रोमानिया लाई गई। जिसके बाद ऑपरेशन गंगा के तहत उसे भारत की सरकार की सहायता से सुरक्षित वापस भारत लाया गया। घर वापस आने के बाद राजनंदनी युद्ध के दौरान पूरे देश और अपने साथ गुजरे उन पलों को बताने का भी काम परिवार के लोगों और मौजूद लोगों के बीच किया गया।

परिवार के लोगों ने जताया सरकार का आभार

राजनंदिनी के यूक्रेन से वापस सुरक्षित भारत आने पर राजनंदनी के माता-पिता के द्वारा भारत सरकार के द्वारा चलाए गए ऑपरेशन गंगा को लेकर प्रधानमंत्री विदेश मंत्री का आभार व्यक्त करने के साथ-साथ स्थानीय सांसद सुनील सिंह और स्थानीय विधायक रामचंद्र सिंह का भी आभार व्यक्त किया गया ।

Barwadih Rajnandini Ukraine


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *