Breaking :
||झारखंड के 248 पारा शिक्षक गायब, 232 ने छोड़ी नौकरी, 5 दिसंबर तक मिला मौका||झारखंड में छह साल से नहीं हुई जेटेट परीक्षा, हाईकोर्ट में याचिका दायर||मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार समेत चार के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी||मुख्यमंत्री विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा को नहीं मिली जमानत||लातेहार: बालूमाथ में कोयला कारोबारियों से व्हाट्सएप कॉल कर रंगदारी मांगने वाला TSPC का एरिया कमांडर गिरफ्तार, भेजा जेल||हेमंत सरकार तीन वर्ष पूरे होने पर सुखाड़ प्रभावित 22 जिलों के किसानों को देगी तोहफा, आवेदन शुरू||झारखंड: ऑनलाइन गेम में मिली हार से परेशान बच्चे ने कर ली खुदकुशी, माता-पिता हो जायें सावधान!||पलामू में नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म, वीडियो वायरल करने की धमकी देकर किया शारीरिक शोषण||बूढ़ा पहाड़ से फिर मिले 12 केन IED बम, किया गया नष्ट||सीओ हेमा प्रसाद व अन्य के खिलाफ होगी ACB जांच, सीएम हेमंत सोरेन ने दी मंजूरी

लातेहार-लोहरदगा सीमा क्षेत्र से 5 लाख के इनामी दो कुख्यात नक्सली गिरफ्तार, हथियारों का जखीरा बरामद

Latehar Lohardaga naxal news

रांची : लातेहार-लोहरदगा जिले के सीमावर्ती के पेशरार थाना क्षेत्र के अति नक्सल प्रभावित बुलबुल जंगल में 17 दिनों से पुलिस द्वारा नक्सलियों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान में पुलिस को कई बड़ी सफलताएं मिली हैं। पुलिस एक बार फिर दो नक्सलियों को गिरफ्तार करने में सफल रही है।

जिसमें बालक गंझू और सुदर्शन भुइयां को गिरफ्तार किया गया है। दोनों पर 5-5 लाख का इनाम है। सुदर्शन भुइयां के खिलाफ 57 और बालक गंझू के खिलाफ 25 मामले दर्ज हैं। वहीं, इनके पास से 23 हथियार बरामद किए गए हैं।

अभियान आईजी अमोल विनुकांत होमकर ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि यह अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई है। उन्होंने बताया कि यह ऑपरेशन 8 फरवरी से शुरू हुआ था और अब तक जारी है। वहीं उन्होंने बताया कि इस ऑपरेशन में लोहरदगा, लातेहार के जिला बल के साथ कोबरा के 203, 209 के साथ सीआरपीएफ 158, 214 बटालियन और जगुआर की टीम शामिल थी। उन्होंने कहा कि जब तक इस क्षेत्र से नक्सलवाद का पूरी तरह से सफाया नहीं हो जाता, तब तक अभियान जारी रहेगा।

बरामद हथियार :-

इंसास LMG – 01
SLR – 08
इंसास रेग्युलर – 03
अमेरिकन ऑटोमेटिक रायफल – 01
सेमी ऑटोमेटिक रायफल – 03
थ्री नॉट थ्री – 08
दो हज़ार जिंदा कारतूस
हैंड ग्रेनेड – 01
भारी मात्रा में नक्सली सामान
अबतक इस अभियान में 11 नक्सली गिरफ्तार किये गए हैं जबकि 1 नक्सली दिनवश नागेशिया ढेर हुआ है।

इस मामले पर सीआरपीएफ के आईजी राजीव सिंह ने बताया कि यह अभियान अपने आप में खास था और इसी वजह से यह कामयाबी हासिल हुई है। हालांकि अब भी लोहरदगा के बुलबुल जंगल में आईडी लगी हुई है और तलाशी का काम जारी है। जिसके बाद लोहरदगा का बुलबुल जंगल बारूद की गंध से मुक्त हो जाएगा।Latehar

Latehar Lohardaga naxal news


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *