Breaking :
||पाकुड़ में करंट लगने से बाप-बेटे की मौत, बेटे को बचाने में गयी पिता की जान||झारखंड में IAS अधिकारियों का तबादला, केके सोन को परिवहन विभाग का अतिरिक्त प्रभार||बूढ़ा पहाड़ पहुंचे CRPF के DG कुलदीप सिंह, जवानों का बढ़ाया हौसला||वर्चस्व की लड़ाई में मारा गया JJMP कमांडर, लातेहार, रामगढ़ और रांची इलाके में था सक्रिय||शर्मनाक: पुलिस कर्मी पर जानवर से दुष्कर्म का आरोप, ग्रामीणों ने की मारपीट, आरोपी जवान निलंबित||BREAKING: पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में घायल सीआरपीएफ जवान की इलाज के दौरान मौत||15 लाख का इनामी माओवादी कमांडर विनय यादव गिरफ्तार, पलामू, लातेहार, गढ़वा व चतरा में हुए कई नक्सली हमलों में था शामिल||पलामू: अज्ञात वाहन की चपेट में आने से बाइक सवार दो युवकों की मौत, एक गंभीर||नहीं रहे कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव, दिल्ली एम्स में निधन, हार गए जिंदगी की जंग||बालूमाथ में राजद नेता पर जानलेवा हमला, गंभीर हालत में रिम्स रेफर

बजट सत्र के समापन पर मुख्यमंत्री ने सदन में कहा नेतरहाट की तर्ज पर खोले जा रहे हैं तीन और स्कूल, पुलिस कर्मियों को मिलेगा क्षतिपूर्ति अवकाश

'

रांची : झारखंड विधानसभा का बजट सत्र शुक्रवार को संपन्न हो गया। इस मौके पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि सरकार स्कॉलरशिप को फिर से 3 गुना बढ़ाने जा रही है। शायद इसे और भी बढ़ा दें। हेमंत ने कहा कि उनकी सरकार ने ऐतिहासिक फैसला लेकर पारा शिक्षकों की समस्या का समाधान किया है। 65 हजार पारा शिक्षकों को अब सहायक अध्यापक के रूप में जाना जाएगा। शिक्षा के क्षेत्र में व्यापक सुधार किए गए हैं। 250 करोड़ की लागत से आधुनिक स्कूल खोले जा रहे हैं। नेतरहाट की तर्ज पर 3 स्कूल खोले जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि सरकार कल्याण विभाग के छात्रावास में छात्रों के लिए भोजन उपलब्ध कराएगी। रसोइयों को भी रखा जाएगा और गार्ड भी तैनात किए जाएंगे। वहीं, पुलिस कर्मियों को क्षतिपूर्ति अवकाश भी मिलेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें यहीं मरना है और जीना है। सरकार रहे न रहे, हमें यहीं रहना है। झारखंड की भावना के अनुरूप काम करेंगे। मौत के बाद विपक्ष को यूपी, बिहार, छत्तीसगढ़ जाना है। मंहगाई के चलते सभी क्षेत्रों में अराजकता बढ़ेगी।

पिछली सरकार राज्य के लिए नहीं बल्कि व्यक्ति के लिए काम कर रही थी। 41 विधायकों के लिए काम किया। एक कहावत है कि भूत से बचने के लिए सरसों का इस्तेमाल किया जाता है, जब सरसों में ही भूत घुस जाए तो वह कैसे भागेगा।


Leave a Reply

Your email address will not be published.