Breaking :
||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर||एकतरफा प्यार में बाइक सवार मनचले ने स्कूटी सवार युवती को धक्का देकर मार डाला||आजसू ने रामगढ़ विधानसभा सीट से सुनीता चौधरी को मैदान में उतारा||झारखंड में अब मुफ्त नहीं मिलेगा पानी, सरकार को देना होगा 3.80 रुपये प्रति लीटर की दर से वाटर टैक्स||27 फरवरी से 24 मार्च तक झारखंड विधानसभा का बजट सत्र, राज्यपाल की मिली स्वीकृति||लातेहार: ऑपरेशन OCTOPUS के दौरान सुरक्षाबलों को मिली एक और बड़ी सफलता, अत्याधुनिक हथियार समेत भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद||लातेहार: बालूमाथ में विवाहिता की गला रेत कर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

गुमला में हुई घटना निंदनीय JJMP पर लगा आरोप बेबुनियाद : कर्मवीर जी

गुमला : प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन जेजेएमपी के कर्मवीर जी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि गुमला जिले के चैनपुर थाना क्षेत्र के जनावल गांव में जो घटना हुई है, वह निंदनीय है। घटना के बाद जेजेएमपी संगठन पर जो आरोप लगाए गए हैं वह बिल्कुल बेबुनियाद है।

जारी विज्ञप्ति में बताया है कि चैनपुर थाना क्षेत्र के जनावल गांव में जो नेहा नीति कुजुर और उनकी तीन साल की बच्ची अनन्या के साथ जो घटना हुई है, उसमें जेजेएमपी संगठन का हाथ नहीं है।

आगे बताया है कि जेजेएमपी के सुकरा उरांव की हत्या कर कुटुमा निवासी बहुरा मुंडा, अमर लकड़ा उर्फ़ अमरजीत, संतोष उरांव, संदीप, अमन लकड़ा, साइन मुंडा ने मिलकर झारखंड जन संग्राम सेनानी नामक संगठन का विस्तार किया था।

आगे बताया है कि कुछ ही दिन बाद संगठन के दोनों कमांडर बहुरा और अमर के बीच तालमेल नहीं बनी और दोनों आपस में ही भिड़ गए। इस खूनी संघर्ष में नेहा नीति कुजुर और उनके 3 वर्षीय बच्चे की हत्या कर दी गयी। हत्या के बाद इसका आरोप जेजेएमपी संगठन पर लगाया गया, जो बिल्कुल बेबुनियाद है।

अंत में लिखा है कि संगठन कभी भी इस तरह की कायरता पूर्ण घटना को अंजाम नहीं देती है। जेजेएमपी संगठन इस घटना से इनकार करते हुए इसकी जांच बारीकी से कराने की मांग करती है। जारी प्रेस विज्ञप्ति में निवेदक के रूप में जेजेएमपी के कर्मवीर जी का नाम लिखा है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *