Breaking :
||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये||झारखंड में हीट वेब को लेकर इन जिलों में येलो अलर्ट जारी, पारा 43 डिग्री के पार||सतबरवा सड़क हादसे में मारे गये दोनों युवकों की हुई पहचान, यात्री बस की चपेट में आने से हुई थी मौत||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक||बड़ी खबर: 25 लाख के इनामी समेत 29 नक्सली ढेर, तीन जवान घायल||पलामू: महुआ चुनकर घर जा रही नाबालिग से भाजपा मंडल अध्यक्ष ने किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस||झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य नज़रुल इस्लाम ने मोदी को जमीन में 400 फीट नीचे गाड़ने की दी धमकी, भाजपा प्रवक्ता ने कहा- इंडी गठबंधन के नेता पीएम मोदी के खिलाफ बड़ी घटना की रच रहे साजिश
Sunday, April 21, 2024
झारखंड

माओवादी रीजनल कमांडर रवींद्र गंझू के घर पुलिस ने चिपकाया इश्तेहार, सरेंडर करें नहीं तो होगी कुर्की जब्ती

Naxal Ravindra Ganjhu

गुमला: प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा-माओवादी के रीजनल कमांडर रवींद्र गंझू को पकड़ने के लिए पुलिस इन दिनों लगातार कोशिश कर रही है। रवींद्र गंझू लंबे समय से फरार है और 15 लाख का इनामी है। ऐसे में पुलिस उसे यह संदेश देने की कोशिश कर रही है कि अगर उसने सरेंडर नहीं किया तो उसकी कुर्की निकाली जाएगी। गुमला पुलिस रवींद्र गंझू के घर पहुंची। पुलिस ने रविंद्र गंजू के घर पर विज्ञापन चस्पा किया है। जिसमें सरेंडर करने की बात कही गई है। पुलिस जब रवींद्र गंजू के घर गई तो उस समय वहां कोई नहीं था और घर का दरवाजा बंद था।

बता दें कि रवींद्र गंझू की पत्नी पुलिस की हिरासत में है और पुलिस रविंद्र के बेटे को रवींद्र की तलाश में अपने साथ ले गई थी। इसलिए जब पुलिस रवींद्र गंझू के घर पहुंची तो वहां कोई नहीं था। गौरतलब है कि रवींद्र गंझू फरवरी में लोहरदगा जिले के बुलबुल जंगल में पुलिस के साथ मुठभेड़ के बाद से फरार है. रवींद्र गंझू गुमला, लातेहार और लोहरदगा जिलों में सक्रिय है।

रवींद्र गंझू के खिलाफ गुमला, लातेहार और लोहरदगा में 50 से ज्यादा मामले दर्ज हैं। विज्ञापन चिपकाने के संबंध में एसआई सूरज रजक ने बताया कि भाकपा माओवादी रवींद्र गंझू के खिलाफ 2018 में घाघरा थाने में प्राथमिकी दर्ज की गयी थी। वह काफी समय से फरार चल रहा है। एसआई ने बताया कि रवींद्र गंझू को तीन महीने के अंदर कोर्ट में पेश होना है। ऐसा नहीं करने पर कुर्की की कार्रवाई की जाएगी।

Naxal Ravindra Ganjhu


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *