Breaking :
||अब झारखंड के सरकारी स्कूलों में हर महीने के तीसरे शनिवार को रहेगी छुट्टी||बिहार: सीएम नीतीश ने दिया इस्तीफा, राजद के साथ सरकार बनाने का दावा||चतरा डीसी अबु इमरान ने किया एक और सांसद का अपमान, लोकसभा स्पीकर के पास दूसरी बार पहुंची शिकायत||अब झारखंड के प्राथमिक विद्यालयों में कक्षाएं संचालित करने में स्थानीय युवाओं की मदद लेगी सरकार||रांची बिरसा मुंडा एयरपोर्ट उड़ाने की धमकी देने वाला आरोपी बिहार से गिरफ्तार||बिहार में सियासी हलचल, नीतीश के पालाबदल की चर्चा, दिल्ली बुलाए गए भाजपा नेता||सुखाड़ को लेकर सरकार गंभीर, स्थिति का जायजा लेने सभी जिलों में भेजे गए अधिकारी||रांची में अपराधियों ने गैस दुकानदार मारी गोली, रिम्स में चल रहा इलाज||माओवादियों के नाम पर लेवी वसूलने आये तीन बदमाश पकड़ाये||झारखंड कैबिनेट में फेरबदल, कांग्रेस के लिए नयी मुसीबत, फूट पड़ने की आशंका बढ़ी

झारखंड की राजनीति में तीसरे मोर्चे का उदय, आजसू के साथ राकांपा और दो निर्दलीय विधायक शामिल

'

Jharkhand Politics Third Front

रांची : झारखंड की राजनीति में आज एक बड़ा राजनीतिक घटनाक्रम देखने को मिला। आजसू के नेतृत्व में राज्य में तीसरे मोर्चे का गठन किया गया। इसे झारखंड लोकतांत्रिक मोर्चा का नाम दिया गया है। आजसू पार्टी सुप्रीमो सुदेश महतो को विधायक दल का नेता चुना गया है। इस मोर्चे में विधायक सरयू राय, विधायक कमलेश सिंह, विधायक अमित यादव और विधायक लम्बोदर महतो शामिल हैं. झारखंड विधानसभा में संयुक्त प्रेस वार्ता कर इसकी घोषणा की गयी।

आजसू सुप्रीमो सुदेश महतो ने मीडिया से बातचीत में बताया कि यह तीसरा मोर्चा झारखंड की बेहतरी के लिए बनाया गया है। कुछ छोटे दलों को सदन में अपनी बात रखने के लिए बहुत कम समय मिलता है। इसलिए यह मोर्चा बनाया गया है। साथ ही उन्होंने कहा कि वह सोमवार को स्पीकर से मुलाकात कर इस मोर्चे की जानकारी भी स्पीकर को देने जा रहे हैं।

वहीं लंबोदर महतो ने कहा कि यह तीसरा मोर्चा जनहित के मुद्दे व झारखंड के विकास के लिए बनाया गया है। मोर्चा सदन के अंदर और सदन के बाहर जनहित के लिए लड़ेगा।

इसे भी पढ़ें :- सब्जी उतारने के बाद रेलवे ट्रैक पार कर रहे मजदूर की इंजन की चपेट में आने से मौत

Jharkhand Politics Third Front


Leave a Reply

Your email address will not be published.