Breaking :
||चतरा डीसी अबु इमरान ने किया एक और सांसद का अपमान, लोकसभा स्पीकर के पास दूसरी बार पहुंची शिकायत||अब झारखंड के प्राथमिक विद्यालयों में कक्षाएं संचालित करने में स्थानीय युवाओं की मदद लेगी सरकार||रांची बिरसा मुंडा एयरपोर्ट उड़ाने की धमकी देने वाला आरोपी बिहार से गिरफ्तार||बिहार में सियासी हलचल, नीतीश के पालाबदल की चर्चा, दिल्ली बुलाए गए भाजपा नेता||सुखाड़ को लेकर सरकार गंभीर, स्थिति का जायजा लेने सभी जिलों में भेजे गए अधिकारी||रांची में अपराधियों ने गैस दुकानदार मारी गोली, रिम्स में चल रहा इलाज||माओवादियों के नाम पर लेवी वसूलने आये तीन बदमाश पकड़ाये||झारखंड कैबिनेट में फेरबदल, कांग्रेस के लिए नयी मुसीबत, फूट पड़ने की आशंका बढ़ी||अब लातेहार के इस गांव के ग्रामीणों ने सीमा पर लगाया बोर्ड, बाहरी व्यक्ति के प्रवेश पर रोक||सांगठनिक बदलाव की तैयारी में झारखंड कांग्रेस, अधिकांश जिले में नए चेहरों को मौका

झारखंड: पुलिसकर्मियों को जल्द मिलेगा क्षतिपूर्ति अवकाश, वर्दी, राशन और महंगाई भत्ते बढ़ाने पर भी विचार

'

Jharkhand Police News

रांची: संसदीय कार्य मंत्री आलमगीर आलम ने सदन में कहा है कि झारखंड के पुलिसकर्मियों को बहुत जल्द 20 दिन का प्रतिपूरक अवकाश मिलेगा। इस मामले से जुड़ा पत्र 11 जनवरी 2021 को प्राप्त हुआ है। इस पर सरकार बहुत जल्द फैसला लेने वाली है। पुलिस कर्मियों का वर्दी भत्ता और राशन भत्ता बढ़ाने पर भी जल्द फैसला लिया जाएगा।

इस मामले में माले विधायक बिनोद सिंह, निर्दलीय विधायक सरयू राय और भाजपा विधायक जय प्रकाश भाई पटेल ने ध्यानाकर्षण प्रस्ताव सदन में लाया था। विधायक बिनोद सिंह ने कहा कि प्रदेश के 75000 पुलिसकर्मी विरोध दिवस मना रहे हैं। 20 दिन का क्षतिपूर्ति अवकाश समाप्त कर दिया गया है।

पुलिस कर्मियों को वर्दी भत्ता वर्तमान में 4000 रुपये मिल रहा है जबकि बिहार में यह 10 हजार रुपये है। राशन भत्ता मात्र 2000 रुपये मिल रहा है जबकि बिहार में यह 6000 रुपये है। तीन साल पहले से पुलिस विभाग से इस संबंध में अनुशंसा प्राप्त हुई है। विधायक सरयू राय ने कहा कि सरकार को इस पर जल्द फैसला लेना चाहिए।

इसे भी पढ़ें :- सड़क दुर्घटना में दो भागों में टूट गयी 5-स्टार सेफ्टी रेटिंग वाली TATA Altroz कार, देखिए तस्वीरें

Jharkhand Police News

Image source – twitter


Leave a Reply

Your email address will not be published.