Breaking :
||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर||एकतरफा प्यार में बाइक सवार मनचले ने स्कूटी सवार युवती को धक्का देकर मार डाला||आजसू ने रामगढ़ विधानसभा सीट से सुनीता चौधरी को मैदान में उतारा||झारखंड में अब मुफ्त नहीं मिलेगा पानी, सरकार को देना होगा 3.80 रुपये प्रति लीटर की दर से वाटर टैक्स||27 फरवरी से 24 मार्च तक झारखंड विधानसभा का बजट सत्र, राज्यपाल की मिली स्वीकृति||लातेहार: ऑपरेशन OCTOPUS के दौरान सुरक्षाबलों को मिली एक और बड़ी सफलता, अत्याधुनिक हथियार समेत भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद||लातेहार: बालूमाथ में विवाहिता की गला रेत कर हत्या, जांच में जुटी पुलिस||झारखंड में चार IAS अधिकारियों का तबादला||लातेहार: बूढ़ा पहाड़ इलाके में नक्सलियों द्वारा छिपाये गये अत्याधुनिक हथियार व अन्य सामान बरामद||रांची हिंसा मामले में डीसी ने 11 आरोपियों पर मुकदमा चलाने की मांगी अनुमति

UP से आ रहे हथियारों की खेप के साथ एटीएस की टीम ने चार तस्करों को पकड़ा, 35 पिस्टल बरामद

रांची: झारखंड पुलिस के आतंकवाद निरोधी दस्ते ने एक महत्वपूर्ण सफलता हासिल करते हुए अपराधियों के एक बड़े हथियार नेटवर्क को नष्ट कर दिया है। झारखंड के अपराधियों के लिए लेकर जा रही हथियारों की बड़ी खेप एटीएस की टीम ने पकड़ी है।

एटीएस की टीम ने बिहार के गया में कार्रवाई करते हुए चार अपराधियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार अपराधियों में रंजन कुमार, चंदन कुमार, दानिश इकबाल और तौहीद शामिल हैं। इन अपराधियों के पास से 35 देशी पिस्टल, पांच मोबाइल और 88700 रुपये बरामद किए गए हैं। इन अपराधियों के खिलाफ गया के आमस थाने, धनबाद जिले के मैथन थाने, हजारीबाग के चौपारण थाने और चतरा जिले के गिद्दौर थाने में मामले दर्ज हैं।

एटीएस की टीम को सूचना मिली थी कि झारखंड में सक्रिय बड़े आपराधिक गिरोहों के लिए हथियारों की बड़ी खेप आने वाली है। जानकारी यह भी थी कि खेप उत्तर प्रदेश के मेरठ से आ रही है। मामले की जानकारी मिलने के बाद एटीएस की टीम हथियार तस्करों की टोह लेने में लगी थी।

गुप्त सूचना के आधार पर एटीएस की टीम ने हथियार तस्करों को पकड़ लिया। एटीएस से पूछताछ में हथियार तस्करों ने बताया है कि इन हथियारों का ऑर्डर झारखंड के अलग-अलग गैंग ने दिया था।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *