Breaking :
||झारखंड के 248 पारा शिक्षक गायब, 232 ने छोड़ी नौकरी, 5 दिसंबर तक मिला मौका||झारखंड में छह साल से नहीं हुई जेटेट परीक्षा, हाईकोर्ट में याचिका दायर||मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार समेत चार के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी||मुख्यमंत्री विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा को नहीं मिली जमानत||लातेहार: बालूमाथ में कोयला कारोबारियों से व्हाट्सएप कॉल कर रंगदारी मांगने वाला TSPC का एरिया कमांडर गिरफ्तार, भेजा जेल||हेमंत सरकार तीन वर्ष पूरे होने पर सुखाड़ प्रभावित 22 जिलों के किसानों को देगी तोहफा, आवेदन शुरू||झारखंड: ऑनलाइन गेम में मिली हार से परेशान बच्चे ने कर ली खुदकुशी, माता-पिता हो जायें सावधान!||पलामू में नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म, वीडियो वायरल करने की धमकी देकर किया शारीरिक शोषण||बूढ़ा पहाड़ से फिर मिले 12 केन IED बम, किया गया नष्ट||सीओ हेमा प्रसाद व अन्य के खिलाफ होगी ACB जांच, सीएम हेमंत सोरेन ने दी मंजूरी

झारखंड में येलो अलर्ट जारी, कनकनी ने बढ़ाई परेशानी, डॉक्टरों ने जताई चिंता

लातेहार में बुधवार को 5-6 डिग्री तापमान रहने के आसार

लातेहार : बीते दो दिन से लातेहार समेत पूरे झारखंड में उत्तर-पश्चिमी से आ रही सर्द हवाओं से झारखंड शीतलहर की चपेट में रहा है। इससे लगभग न्यूनतम तापमान में छह डिग्री की गिरावट दर्ज की गई है। वहीं मौसम विभाग के पूर्वानुमान में बताया है कि अगले दो दिनों तक तापमान में गिरावट जारी रहेगी।

सुबह में कोहरा के बाद पूरे दिन आसमान साफ रहेगा और धूप खिली रहेगी। इसके बावजूद तापमान में गिरावट के आसार है। वहीं मंगलवार को उत्तरी, दक्षिणी और मध्य भाग के कुछ कुछ इलाकों में शीतलहर का प्रकोप जारी रहेगा. वहीं कल यानी बुधवार से पारा में गिरावट जारी रहेगी।

बुधवार का पूर्वानुमान तापमान

मौसम विभाग के पूर्वानुमान अनुसार बुधवार को लातेहार, पलामू, गढ़वा, लोहरदगा, कोडरमा, चतरा, हजारीबाग का न्यूनतम तापमान 5-6 डिग्री रहने के आसार है. वहीं गोड्डा, साहिबगंज और पाकुर का पारा 9 डिग्री रहने की संभावना है। वहीं 14 जिलों के दुमका, देवघर, जामतारा, गिरिडीह, धनबाद, बोकारो, रामगढ़, रांची, गुमला, खूंटी, सराइकेला-खरसावाँ, पश्चिमी-सिंहभूम और पूर्वी सिंहभूम का पारा 7-8 डिग्री रहने की संभावना है।

वहीं बीते सोमवार की बात की जाए तो सबसे अधिक तापमान चाईबासा में 25.4 डिग्री सेल्सियस रहा। वहीं न्यूनतम तापमान 4.9 डिग्री सेल्सियस डालटेगंज और हजारीबाग में रहा। मौसम विज्ञान केंद्र रांची हेड अभिषेक आनंद ने बताया कि राज्य में फिलहाल शीतलहर से राहत मिलने वाली नहीं है। पारा में गिरावट जारी रहेगा।

डॉक्टरों ने ठंड को लेकर जताई चिंता

कड़ाके की ठंक की ध्यान में रखते हुए डॉक्टरों ने चिंता जताई है, डॉक्टरों की मानें तो ठंड की वजह से लकवा या ब्रेन स्ट्रोक का खतरा अधिक होता है। ठंड में आवश्यकता है अपने आप को ठंड से बचाए रखें। कहीं धूप के बाद घर से बाहर निकले। दवाओं का सेवन अवश्य करें। इसके साथ ही डायबिटीज के मरीजों को भी अपना खास ख्याल रखना चाहिए। बढ़ते ठंड को देखते हुए खाने में नमक का प्रयोग कम करना चाहिए।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *