Breaking :
||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर||एकतरफा प्यार में बाइक सवार मनचले ने स्कूटी सवार युवती को धक्का देकर मार डाला||आजसू ने रामगढ़ विधानसभा सीट से सुनीता चौधरी को मैदान में उतारा||झारखंड में अब मुफ्त नहीं मिलेगा पानी, सरकार को देना होगा 3.80 रुपये प्रति लीटर की दर से वाटर टैक्स||27 फरवरी से 24 मार्च तक झारखंड विधानसभा का बजट सत्र, राज्यपाल की मिली स्वीकृति||लातेहार: ऑपरेशन OCTOPUS के दौरान सुरक्षाबलों को मिली एक और बड़ी सफलता, अत्याधुनिक हथियार समेत भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद||लातेहार: बालूमाथ में विवाहिता की गला रेत कर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

झारखंड बालिका आवासीय विद्यालय की वार्डन पर लापरवाही बरतने का आरोप, कार्रवाई की मांग

बारियातू/संजय राम

लातेहार : झारखंड बालिका आवासीय विद्यालय बारियातू के अध्यक्ष आनंद उरांव ने विद्यालय के वार्डन पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है।

अध्यक्ष आनंद ने प्रखंड प्रमुख महावीर उरांव को लिखित आवेदन देकर बताया कि मैं 23 दिसंबर गुरुवार को विद्यालय पहुंचा तो वार्डन सहित एक भी शिक्षिका विद्यालय में उपस्थित नही थी। गुरुवार से ही विद्यालय एक सप्ताह के लिए बंद हो रहा था, जिस कारण विद्यालय में अध्यनरत छात्राएं अपने घर जाने की तैयारी में थीं। लेकिन वार्डन सहित कोई शिक्षिका नही रहने से छात्राएं काफी परेशानी थी। विद्यालय में उनकी देख-रेख करने वाला भी कोई नही था।

आवेदन में आगे बताया गया है कि पूर्व में भी वार्डन इस तरह की लापरवाही करती रही हैं। जिसकी सूचना प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी को भी दी गई है, फिर न तो कोई करवाई की गई है न ही कोई सुधार हुआ है। विद्यालय में विषयवार शिक्षकों की भी कमी है।

विद्यालय के अध्यक्ष सहित अन्य अभिभावकों ने वार्डन सहित अन्य शिक्षिकाओं की शिक्षण कार्य शैली में सुधार लाने या स्थानांतरण करने की मांग किया है।

इस संबंध में प्रखंड प्रमुख महावीर उरांव ने कहा कि विद्यालय के अध्यक्ष सहित अन्य अभिभावकों ने दूरभाष पर जानकारी दिया कि विद्यालय से वार्डन सहित अन्य शिक्षिका गायब है। इस सूचना पर जब मैं विद्यालय पहुंचा तो वार्डन सहित कोई शिक्षिका को भी उपस्थित नही थी, जो इनकी लापरवाही को दर्शाता है। लिखित आवेदन मिला है कार्रवाई के लिए जिले के अधिकारियों को प्रेषित किया जाएगा।

आवेदन देने वालो में मुख्य रूप से रामचंद्र गंझू, पंकज कुमार यादव, धनेश्वर कुजूर, प्रमोद राम, नरेश उरांव, रामजतन पंडित, बसंती देवी, अमीर गंझू सहित अन्य अभिभावक शामिल हैं।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *