Breaking :
||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये||झारखंड में हीट वेब को लेकर इन जिलों में येलो अलर्ट जारी, पारा 43 डिग्री के पार||सतबरवा सड़क हादसे में मारे गये दोनों युवकों की हुई पहचान, यात्री बस की चपेट में आने से हुई थी मौत||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक||बड़ी खबर: 25 लाख के इनामी समेत 29 नक्सली ढेर, तीन जवान घायल||पलामू: महुआ चुनकर घर जा रही नाबालिग से भाजपा मंडल अध्यक्ष ने किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस||झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य नज़रुल इस्लाम ने मोदी को जमीन में 400 फीट नीचे गाड़ने की दी धमकी, भाजपा प्रवक्ता ने कहा- इंडी गठबंधन के नेता पीएम मोदी के खिलाफ बड़ी घटना की रच रहे साजिश
Monday, April 22, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड पुलिस के दो पदाधिकारियों को केंद्रीय गृह मंत्री मेडल

रांची : केंद्रीय गृह मंत्रालय ने देश के 151 सर्वश्रेष्ठ शोधकर्ताओं को वर्ष 2022 के लिए केंद्रीय गृह मंत्री पदक की सिफारिश की है। यह मेडल हर साल बेहतर शोध के लिए दिया जाता है। इस वर्ष झारखंड के केवल दो पदाधिकारियों को बेहतर शोध के लिए केंद्रीय गृह मंत्री पदक मिला है।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इन पदाधिकारियों में सीआईडी के डीएसपी जेपीएन चौधरी और रांची जिला बल के चान्हो थाने में तैनात महिला निरीक्षक रूपा बाखला शामिल हैं।

गुमला में एकीकृत आदिवासी विकास एजेंसी के सरकारी खाते से फर्जी चेक के माध्यम से नौ करोड़ पांच लाख 16 हजार 700 रुपये की अवैध निकासी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह को पकड़ने और पैसे की वसूली के लिए सीआईडी के डीएसपी जेपीएन चौधरी को यह पदक मिला है। उन्होंने बेहतर शोध की बदौलत एक बड़े रैकेट का खुलासा किया।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

वहीं चान्हो थाने की महिला एसआई रूपा बाखला को वहां सामूहिक दुष्कर्म की घटना को सुलझाने के लिए बेहतर शोध के लिए मेडल मिला है। चान्हो में सेना की बहाली की दौड़ में शामिल नाबालिग का अपहरण कर कार में सामूहिक दुष्कर्म करने वाले तीनों आरोपियों को महिला एसआई ने 24 घंटे के भीतर गिरफ्तार कर मामले का खुलासा कर दिया था।