Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर||चतरा: अत्याधुनिक हथियार के साथ TSPC के तीन उग्रवादी गिरफ्तार||लातेहार में बड़ा रेल हादसा, चार यात्रियों की मौत और कई के घायल होने की सूचना||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज
Sunday, June 16, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

पलामू: TSPC के तीन उग्रवादी गिरफ्तार, हथियार समेत अन्य सामान बरामद

पलामू : छतरपुर थाना पुलिस ने बुधवार को प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन तृतीय सम्मेलन प्रस्तुति कमेटी (टीएसपीसी) के तीन सक्रिय समर्थकों को गिरफ्तार कर लिया। इनके पास से देसी कट्टा, गोली, मोबाइल, पल्सर बाइक और प्रचुर मात्रा में दैनिक उपयोग के सामान बरामद किये गये हैं।

पलामू पुलिस को सूचना मिली थी कि टीएसपीसी के टॉप कमांडर नगीना और निशांत का दस्ता छतरपुर, नौडीहा बाजार, पाटन के इलाके में किसी घटना को अंजाम देने की फिराक में है। इसी सूचना के आलोक में पलामू पुलिस ने सर्च अभियान चलाया। सर्च ऑपरेशन में टीएसपीसी उग्रवादी गोविंद यादव, शंभू परहिया और मोती साव को गिरफ्तार किया गया।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

गोविंद साव छतरपुर के मंझौली, शंभू परहिया छतरपुर के बघमनवा, मोती साव छतरपुर के चेराई के रहने वाले हैं। गिरफ्तार उग्रवादियों में शंभू परहिया पहले भी जेल जा चुका है। गिरफ्तार तीनों उग्रवादी टीएसपीसी के टॉप कमांडर नगीना और निशांत के दस्ते के सदस्य हैं।

वरीय पुलिस अधिकारी ने बताया कि ये तीनों टीएसपीसी के लिए हथियार व अन्य सामग्री उपलब्ध कराते थे। गिरफ्तार तीनों उग्रवादी दस्ते में हथियार रखते थे और इलाके में अपना सूचना नेटवर्क मजबूत करते थे। पुलिस की गतिविधियों पर नज़र रखता था और शीर्ष कमांडरों को सूचित करता था। तीनों उग्रवादियों ने इलाके के ठेकेदारों, खदानों और अन्य लोगों की एक सूची तैयार की थी।

Palamu Crime News Today