Breaking :
||पलामू: प्यार में पड़कर युवक ने दे दी जान, तीन पन्ने के सुसाइड नोट में लिखी दास्तान…आप भी पढ़िये||झारखंड के अति नक्सल प्रभावित छह जिलों को विशेष केंद्रीय सहायता||लातेहार: मनिका में युवक की बेरहमी से हत्या, हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर सड़क जाम||लातेहार: जिले के 30 पारा शिक्षकों को बर्खास्त करने का आदेश जारी, सहायक अध्यापक संघर्ष मोर्चा ने किया विरोध||लातेहार: हेरहंज में सड़क हादसे में व्यवसायी की मौत, आहत दुकानदारों ने बंद रखीं दुकानें||झारखंड: अप्रैल महीने में 11 दिन बैंक रहेंगे बंद||गढ़वा: दामाद के प्यार में पागल सास ने कर दी पति की हत्या||अब देवघर में होगा G-20 शिखर सम्मेलन, 15 देशों के प्रतिनिधि लेंगे हिस्सा||प्रधानमंत्री के खिलाफ अपशब्द बोलने के मामले में विधायक इरफान अंसारी साक्ष्य के अभाव में बरी||पढ़ाई में अब गरीबी नहीं बनेगी बाधा, होनहार छात्र अंकित को हर संभव सरकारी मदद देने का मुख्यमंत्री ने दिया आदेश

लातेहार पुलिस को मिली बड़ी सफलता, पांच लाख का इनामी भाकपा माओवादी सब जोनल कमांडर गिरफ्तार

रुपेश कुमार अग्रवाल/बीरेंद्र प्रसाद

लातेहार : पुलिस ने प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के सब जोनल कमांडर शीतल मोची (पिता स्वर्गीय काली राम उर्फ कैला राम, हुंडराटांड़, गणेशपुर, बालूमाथ, लातेहार) को बालूमाथ थाना क्षेत्र के शांति जंगल से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उसके पास से एक लोडेड पिस्टल, 25 जिंदा गोली और 10 हजार रुपये नकद भी बरामद किया है।

मारक दस्ते का था मुख्य कमांडर

सरकार ने गिरफ्तार नक्सली पर पांच लाख रुपये का इनाम भी घोषित किया था। वह जोनल कमांडर रविंद्र गंझू के मारक दस्ते का मुख्य कमांडर था।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

बरामद हथियार

7.65 MM का लोडेड देशी पिस्टल
7.65 MM का 05 राउण्ड जिन्दा गोली
7.62mm का AK-47 रायफल का 20 राउण्ड जिन्दा गोली
लेवी की राशि – 10 हजार रुपये बरामद किया गया है।

गुप्त सूचना पर मिली सफलता

प्रेसवार्ता में जानकारी देते हुए एसपी अंजनी अंजन ने गुरूवार को बताया कि बुलबुल और बूढ़ा पहाड़ से नक्सलियों के सफाया होने के बाद अब नक्सली अपना नया ठिकाना ढूंढ रहे हैं। इसी बीच गुरुवार की सुबह पुलिस को सूचना मिली कि भाकपा माओवादी का जोनल कमांडर रविंदर गंझू अपने दस्ते के साथ बालूमाथ थाना क्षेत्र के शांति जंगल के आसपास किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के उदेश्य से भ्रमणशील है। इस सूचना के बाद बालूमाथ एसडीपीओ अजीत कुमार के नेतृत्व में एक टीम बनाकर पुलिस ने जंगल की घेराबंदी कर छापामारी की।

जंगल का लाभ उठाकर भागे नक्सली

उन्होंने बताया की छापामारी दल जैसे ही जंगल में पहुंची पुलिस को देखते ही नक्सली जंगल का लाभ उठाकर भागने लगे। परंतु पुलिस ने एक नक्सली को दौड़ाकर पकड़ लिया। पूछताछ के दौरान यह पता चला कि गिरफ्तार नक्सली शीतल मोची है, जो भाकपा माओवादी का सब जोनल कमांडर है।

आईडी बम लगाने में है एक्सपर्ट

एसपी अंजनी अंजन ने बताया कि गिरफ्तार नक्सली माओवादियों के लिए आईडी बम लगाने का काम करता था। आईडी बम लगाने में यह विशेषज्ञ है। एसपी ने बताया कि माओवादी संगठन के जोनल कमांडर रविंद्र गंझू के साथ यह रहता था और उसके मारक दस्ते का मुख्य कमांडर था। एसपी ने बताया कि इसके द्वारा लगाये गये आईडी बम की चपेट में आने से कई ग्रामीणों को नुकसान भी हुआ है।

शीतल पर 25 से अधिक मामले हैं दर्ज

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार नक्सली पर लातेहार, गुमला, लोहरदगा के विभिन्न थाना क्षेत्रों में 25 से अधिक मामले दर्ज हैं। एसपी ने कहा कि गिरफ्तार नक्सली से पुलिस को कई महत्वपूर्ण जानकारी मिली है, जिसके आधार पर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

छापामारी दल

छापामारी दल में डीएसपी अजीत कुमार के अलावे, इंस्पेक्टर शशि रंजन कुमार, बालूमाथ थाना प्रभारी प्रशांत प्रसाद, बारियातू थाना प्रभारी मुकेश चौधरी, बालूमाथ पुलिस अवर निरीक्षक नीतीश कुमार, धीरज कुमार, कुबेर साव, दुति कृष्णा महतो, कैलाश बाड़ा, सहायक अवर निरीक्षक पारसनाथ प्रसाद, राम जी ठाकुर, सेट 208 मकईयाटांड व 204 तेतरियाखांड विकेट के सशस्त्र बल शामिल थे।

माओवादी शीतल मोची गिरफ्तार