Breaking :
||पाकुड़ में करंट लगने से बाप-बेटे की मौत, बेटे को बचाने में गयी पिता की जान||झारखंड में IAS अधिकारियों का तबादला, केके सोन को परिवहन विभाग का अतिरिक्त प्रभार||बूढ़ा पहाड़ पहुंचे CRPF के DG कुलदीप सिंह, जवानों का बढ़ाया हौसला||वर्चस्व की लड़ाई में मारा गया JJMP कमांडर, लातेहार, रामगढ़ और रांची इलाके में था सक्रिय||शर्मनाक: पुलिस कर्मी पर जानवर से दुष्कर्म का आरोप, ग्रामीणों ने की मारपीट, आरोपी जवान निलंबित||BREAKING: पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में घायल सीआरपीएफ जवान की इलाज के दौरान मौत||15 लाख का इनामी माओवादी कमांडर विनय यादव गिरफ्तार, पलामू, लातेहार, गढ़वा व चतरा में हुए कई नक्सली हमलों में था शामिल||पलामू: अज्ञात वाहन की चपेट में आने से बाइक सवार दो युवकों की मौत, एक गंभीर||नहीं रहे कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव, दिल्ली एम्स में निधन, हार गए जिंदगी की जंग||बालूमाथ में राजद नेता पर जानलेवा हमला, गंभीर हालत में रिम्स रेफर

बिहार में सियासी हलचल, नीतीश के पालाबदल की चर्चा, दिल्ली बुलाए गए भाजपा नेता

'

पटना : आरसीपी सिंह के जदयू से इस्तीफे के बाद से बिहार में सियासी हलचल तेज हो गई है। चर्चा है कि राजनीति में पलटू कुमार के नाम से मशहूर राज्य के सीएम एक बार फिर पलटकर बीजेपी छोड़कर तेजस्वी यादव की आरजेडी से हाथ मिला सकते हैं। आज कांग्रेस और राजद के रुख ने भी इन अटकलों को तेज कर दिया है। दोनों पार्टियों ने नीतीश कुमार के साथ आने की बात कही है। ।

इसके अलावा बीजेपी भी काफी सक्रिय है। पार्टी नेतृत्व ने रविशंकर प्रसाद और शाहनवाज हुसैन को दिल्ली बुलाया है। माना जा रहा है कि दोनों नेताओं को आलाकमान ने बिहार में जारी राजनीतिक संकट पर चर्चा के लिए बुलाया है।

वहीं राजद के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने सोमवार को कहा कि अगर नीतीश कुमार बीजेपी छोड़ते हैं तो हम उन्हें साथ ले जाने के लिए तैयार हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा और जदयू का मंगलवार को विधायकों की बैठक बुलाना इस बात का संकेत है कि कुछ असामान्य हो रहा है। उन्होंने कहा कि मैं व्यक्तिगत रूप से नहीं जानता कि क्या हो रहा है। लेकिन इस बात को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है कि जिन पार्टियों के पास बहुमत के लिए पर्याप्त संख्या है, उन्होंने अपने विधायकों की बैठक बुलाई है।

तिवारी ने कहा कि अगर नीतीश कुमार एनडीए छोड़ते हैं तो हम उन्हें गले लगाने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा बिहार में भाजपा से मुकाबला करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि अगर इस जंग में सीएम हमारे साथ आते हैं तो वह तैयार हैं।

इसके अलावा कांग्रेस विधायक शकील अहमद खान भी नीतीश कुमार के होश में आने पर साथ आने को तैयार हो गए हैं। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि हम बिहार में नीतीश कुमार का समर्थन करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार वैश्विक नेता हैं। कांग्रेस विधायक शकील अहमद खान ने कहा कि हमारी हमेशा से कोशिश रही है कि बीजेपी को सत्ता से दूर रखा जाए. हम चाहते हैं कि नीतीश कुमार साथ आएं और सेक्युलर मूड वाली पार्टियों को बीजेपी के खिलाफ एकजुट होना चाहिए। इस एकता की बहुत जरूरत है।

बता दें कि अगले सोमवार से मंगलवार तक बिहार के सभी प्रमुख दलों ने विधायक दल की बैठक बुलाई है। नीतीश कुमार ने पारी को लेकर कुछ नहीं कहा है, लेकिन चर्चाएं तेज हैं। नीति आयोग की बैठक में उनके न आने को लेकर अटकलें जोरों पर हैं। यह लगातार चौथा कार्यक्रम था जिसमें नीतीश कुमार ने हिस्सा नहीं लिया।