Breaking :
||अब झारखंड के सरकारी स्कूलों में हर महीने के तीसरे शनिवार को रहेगी छुट्टी||बिहार: सीएम नीतीश ने दिया इस्तीफा, राजद के साथ सरकार बनाने का दावा||चतरा डीसी अबु इमरान ने किया एक और सांसद का अपमान, लोकसभा स्पीकर के पास दूसरी बार पहुंची शिकायत||अब झारखंड के प्राथमिक विद्यालयों में कक्षाएं संचालित करने में स्थानीय युवाओं की मदद लेगी सरकार||रांची बिरसा मुंडा एयरपोर्ट उड़ाने की धमकी देने वाला आरोपी बिहार से गिरफ्तार||बिहार में सियासी हलचल, नीतीश के पालाबदल की चर्चा, दिल्ली बुलाए गए भाजपा नेता||सुखाड़ को लेकर सरकार गंभीर, स्थिति का जायजा लेने सभी जिलों में भेजे गए अधिकारी||रांची में अपराधियों ने गैस दुकानदार मारी गोली, रिम्स में चल रहा इलाज||माओवादियों के नाम पर लेवी वसूलने आये तीन बदमाश पकड़ाये||झारखंड कैबिनेट में फेरबदल, कांग्रेस के लिए नयी मुसीबत, फूट पड़ने की आशंका बढ़ी

नक्सलियों ने 27 जनवरी को किया झारखंड-बिहार बंद का ऐलान

'

प्रशांत बोस और उसकी पत्नी शीला की गिरफ्तारी के विरोध में किया आह्वान

गिरिडीह : प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा-माओवादी ने किशन दा उर्फ ​​प्रशांत बोस और उनकी पत्नी शीला दी की गिरफ्तारी के खिलाफ 27 जनवरी को झारखंड-बिहार बंद का आह्वान किया है। नक्सली संगठन माओवादी के दोनों राज्यों की स्पेशल एरिया कमेटी के प्रवक्ता आजाद ने इस बारे में प्रेस बयान जारी किया है।

जारी प्रेस बयान में एरिया कमेटी के प्रवक्ता आजाद ने बताया है कि झारखंड-बिहार में 21 से 26 जनवरी तक संगठन प्रतिरोध दिवस मनाएगा। इसलिए 27 जनवरी को दोनों राज्यों में नक्सली बंदी रहेंगे।

प्रवक्ता आजाद ने बताया कि प्रशांत बोस और शीला दोनों गंभीर बीमारियों से पीड़ित हैं। इसके बाद भी सरकार इन दोनों को पूर्वी सिंहभूम की जेल में कोई स्वास्थ्य सुविधा नहीं दे रही है।

दोनों के स्वास्थ्य को लेकर सरकार की ओर से लापरवाही बरती जा रही है। प्रवक्ता आजाद ने कहा कि दोनों ने संगठन में रहते हुए किसानों, मजदूरों और शोषितों के खिलाफ लड़ाई लड़ी।

इसलिए संगठन दोनों की भूमिका को महत्वपूर्ण मानता है और जेल में स्वास्थ्य सुविधाएं न मिलने और गिरफ्तारी के विरोध में 27 जनवरी को झारखंड-बिहार में बंद का आह्वान किया है।


Leave a Reply

Your email address will not be published.