Breaking :
||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल||पलामू: पिछले 13 माह में सड़क दुर्घटना में 225 लोगों की मौत पर उपायुक्त ने जतायी चिंता||सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित||JSSC परीक्षा में गड़बड़ी मामले की CBI जांच कराने की मांग को लेकर विधानसभा गेट पर भाजपा विधायकों का प्रदर्शन||लातेहार: 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर||युवक ने थाने की हाजत में लगायी फां*सी, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप
Sunday, February 25, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

विधायक लोबिन हेंब्रम चंपई सरकार के समर्थन में करेंगे वोट

रांची : फ्लोर टेस्ट से पहले झारखंड मुक्ति मोर्चा के विधायक लोबिन हेंब्रम की नाराजगी की चल रही खबरों के बीच उन्होंने चंपई सोरेन सरकार को समर्थन देने का ऐलान किया है। लोबिन ने रांची स्थित आवासीय परिसर में रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके पत्रकारों को यह जानकारी दी। उन्होंने चंपई सोरेन सरकार के गठन पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि इस सरकार को मेरा समर्थन रहेगा।

लोबिन हेंब्रम के इस एलान से झारखंड विधानसभा में विश्वास मत से पहले चंपई सोरेन और झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) को बड़ी राहत मिली है। हालांकि, उन्हाेंने सरकार के सामने कई मुद्दे भी रखे हैं। लोबिन ने कहा कि झारखंड में शराबबंदी होनी चाहिए। गुरुजी सारे मजहब के लोगों को शराब से दूर रहने की नसीहत देते रहे हैं। लोबिन हेम्ब्रम ने कहा कि पेसा एक्ट झारखंडियों का मूल कवच है। इसे भी लागू किया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि एसपीटी और सीएनटी लागू नहीं हो सका। झारखंड में आज इसे ताक में रखकर जमीन का अधिग्रहण हो रहा है। ग्रामसभा के बगैर शेड्यूल एरिया में खदान चल रहे हैं। जमीन का अधिग्रहण भी हो रहा है। उन्होंने कहा कि झारखंड में विस्थापन आयोग का गठन हो। साथ ही आदिवासी-मूलवासी की जमीन की खरीद-बिक्री मामलों के लिए स्पेशल कोर्ट बनाने की भी मांग की है।

गौरतलब है कि झामुमो से नाराज चल रहे लोबिन हेंब्रम पार्टी से नाता तोड़ लेने की धमकी दे चुके थे।

इससे पहले विधायक लोबिन हेंब्रम ने रविवार को पार्टी प्रमुख और सांसद शिबू सोरेन से उनके मोरहाबादी स्थित आवास पर मुलाकात की और उनका आशीर्वाद लिया। दोनों के बीच वर्तमान राजनीतिक हालात पर चर्चा हुई।

Lobin Hembram support Champai government