Breaking :
||पलामू: नाबालिग दिव्यांग युवती से दुष्कर्म, मामला दर्ज||राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव का किडनी ट्रांसप्लांट सफल, देखें बेटे तेजस्वी द्वारा शेयर किया वीडियो||गैंगस्टर गोपाल शार्क शूटर के नाम से पोस्टर चस्पा कर रंगदारी मांगने के मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को पकड़ा, हथियार बरामद||गुमला की लड़की को लातेहार के लड़के से Facebook पर हुआ प्यार, शादी का झांसा देकर किया यौन शोषण, रूपये भी ठगे||आंखों के इलाज के लिए विनीत को मिली विधायक निधि से 50 हजार की मदद, विनीत ने जताया विधायक के प्रति आभार||लातेहार: सुधा सिन्हा स्कूल के डायरेक्टर के घर पर अज्ञात अपराधियों ने किया हमला, दी जान से मारने की धमकी||रांची: उड़ान IAS अकादमी के डायरेक्टर अरुण अग्रवाल पर जानलेवा हमला, लातेहार अम्बाकोठी के हैं निवासी||सीएम हेमंत सोरेन की नहीं होगी गिरफ्तारी, ईडी के पास कोई पुख्ता सबूत नहीं||झारखंड से कोरोना की विदाई, सभी जिले कोरोना मुक्त घोषित||झारखंड: प्रमाण पत्र सत्यापन नहीं कराने वाले सहायक अध्यापक होंगे कार्यमुक्त

पलामू: छह साल छोटे प्रेमी के साथ पकड़ी गई विवाहिता, पति ने प्रेमी के साथ किया विदा

पलामू : जिले के तरहसी थाना क्षेत्र के गोइंदी गांव में एक बच्ची की मां को अपने से छह साल छोटे प्रेमी के साथ पकड़ा गया। महिला पिछले कई दिनों से अपने प्रेमी के साथ रह रही थी। ग्रामीणों ने शक के आधार पर प्रेमी को पकड़ लिया। इसके बाद पूरा मामला सामने आया।

महिला का पति, सास-ससुर सभी घर से बाहर काम करते हैं। ग्रामीणों ने महिला को काफी समझाया, लेकिन वह प्रेमी को छोड़कर पति के साथ रहने को राजी नहीं हुई। पति को फोन पर सूचना मिली तो वह पत्नी को छोड़ने के लिए तैयार हो गया। महिला प्रेमी साथ गई और अपनी बेटी को भी ले गई।

गोइंदी के टंकू सिंह की पत्नी रेशमी देवी (25) का कुसडीह-बनई निवासी अरुण मोची (19) से पिछले दो साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों घर में किसी के न होने का फायदा उठा रहे थे। अरुण अक्सर गोइंदी आता था। रेशमी के साथ रहता था। इसकी जानकारी ग्रामीणों को हुई। उसने दोनों को पकड़ लिया।

महिला रेशमी देवी का अपने पति से अक्सर विवाद रहता था। इस मामले में कई बार पंचायत भी हुई लेकिन विवाद खत्म नहीं हुआ। प्रेमी के पकड़े जाने के बाद पूरा मामला सामने आया। महिला की शादी साल 2017 में हुई थी। उसके मायका मेदिनीनगर के चियांकी में हैं।

महिला व उसके प्रेमी को पकड़ने के बाद ग्रामीणों ने बैठक की। मैंने महिला को समझाने की पूरी कोशिश की। महिला अपने प्रेमी के साथ रहने को तैयार थी। कई घंटों तक चली बैठक के बाद ग्राम सभा में पति से फोन पर पत्नी को छोड़ने की सहमति ली गई। इसके बाद दोनों को गांव से विदा कर दिया गया।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *