Breaking :
||झारखंड के 248 पारा शिक्षक गायब, 232 ने छोड़ी नौकरी, 5 दिसंबर तक मिला मौका||झारखंड में छह साल से नहीं हुई जेटेट परीक्षा, हाईकोर्ट में याचिका दायर||मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार समेत चार के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी||मुख्यमंत्री विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा को नहीं मिली जमानत||लातेहार: बालूमाथ में कोयला कारोबारियों से व्हाट्सएप कॉल कर रंगदारी मांगने वाला TSPC का एरिया कमांडर गिरफ्तार, भेजा जेल||हेमंत सरकार तीन वर्ष पूरे होने पर सुखाड़ प्रभावित 22 जिलों के किसानों को देगी तोहफा, आवेदन शुरू||झारखंड: ऑनलाइन गेम में मिली हार से परेशान बच्चे ने कर ली खुदकुशी, माता-पिता हो जायें सावधान!||पलामू में नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म, वीडियो वायरल करने की धमकी देकर किया शारीरिक शोषण||बूढ़ा पहाड़ से फिर मिले 12 केन IED बम, किया गया नष्ट||सीओ हेमा प्रसाद व अन्य के खिलाफ होगी ACB जांच, सीएम हेमंत सोरेन ने दी मंजूरी

लातेहार: 40 से 50 की संख्या में आये माओवादियों ने दिया घटना को अंजाम, पर्चा छोड़ कर ली घटना की जिम्मेदारी

लातेहार : तीसरी रेल लाइन के लिए कार्य कर रही कंपनी टीटीआईपील के कंस्ट्रक्शन साइट पर माओवादियों ने हमला कर दिया है। इस दौरान माओवादियों ने कंपनी की साइट पर जमकर उत्पात मचाया। नक्सलियों ने निर्माण कार्य में लगे सभी कर्मियों को बंधक बना लिया और सभी वाहनों में आग लगा दी। घटना चंदवा थाना क्षेत्र अंतर्गत कठपुलिया के समीप डगडगिया पुल की है। माओवादियों ने मौके पर एक पर्चा छोड़ घटना की जिम्मेदारी ली है। हालांकि समाचार लिखे जाने तक घटना कि आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पायी है।

40 से 50 की संख्या में आये थे माओवादी

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि चंदवा थाना क्षेत्र अंतर्गत सीआईसी सेक्शन के बरकाकाना-बरवाडीह रेलखंड पर टोरी और चेतर स्टेशन के बीच निर्माणाधीन 188 नम्बर ब्रिज पर आरवीएनएल के अंदर काम कर रही कंपनी टीटीआईपीएल के कर्मी काम में लगे थे। इसी दौरान देर शाम 40 से 50 की संख्या में माओवादी कंपनी की साइट पर पहुंचे और सभी कर्मियों को एक स्थान पर जमा होने का निर्देश दिया। इसके बाद सभी कर्मियों को बंधक बनाकर कहा कि कंपनी को हमने पूर्व में ही बात करने की चेतावनी दी थी। बात नहीं करने पर यह कार्रवाई की जा रही है। इसके बाद बारी-बारी से साइट पर खड़े सभी वाहन, उपकरण व बाइक में आग लगा दी।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

दो इंजीनियर को भी बनाया बंधक

इस दौरान माओवादियों ने साइट पर लगे पोकलेन मशीन, हाइवा, मोटरसाइकिल समेत अन्य वाहनों को फूंक दिया। इससे कंपनी को करोड़ों का नुकसान बताया जा रहा है। माओवादियों ने दो इंजीनियर को भी बंधक बनाया था जिसे घटना को अंजाम देने के बाद छोड़ दिया।

इसे भी पढ़ें :- लातेहार: तीसरी रेल लाइन निर्माण कार्य में लगी कंपनी के साइट पर माओवादियों का हमला, कर्मियों को बनाया बंधक, वाहनों को फूंका

अप रेल लाइन पर रेल यातायात बाधित

बताया गया कि माओवादियों ने एक पाइलिंग मशीन में भी आग लगा दी है। जिससे ब्रिज का एक हिस्सा जलने से अप रेल लाइन की ओर झुक गया है। इससे रेल यातायात भी प्रभावित होने का अनुमान लगाया जा रहा है। इसकी सूचना रेलवे को दे दी गयी है। एहतियातन अप रेलवे लाइन पर रेल यातायात खबर लिखे जाने तक बंद करा दिया गया था। माओवादियों की इस कार्रवाई के बाद कंपनी कर्मियों में दहशत का माहौल है।