Breaking :
||पाकुड़ में करंट लगने से बाप-बेटे की मौत, बेटे को बचाने में गयी पिता की जान||झारखंड में IAS अधिकारियों का तबादला, केके सोन को परिवहन विभाग का अतिरिक्त प्रभार||बूढ़ा पहाड़ पहुंचे CRPF के DG कुलदीप सिंह, जवानों का बढ़ाया हौसला||वर्चस्व की लड़ाई में मारा गया JJMP कमांडर, लातेहार, रामगढ़ और रांची इलाके में था सक्रिय||शर्मनाक: पुलिस कर्मी पर जानवर से दुष्कर्म का आरोप, ग्रामीणों ने की मारपीट, आरोपी जवान निलंबित||BREAKING: पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में घायल सीआरपीएफ जवान की इलाज के दौरान मौत||15 लाख का इनामी माओवादी कमांडर विनय यादव गिरफ्तार, पलामू, लातेहार, गढ़वा व चतरा में हुए कई नक्सली हमलों में था शामिल||पलामू: अज्ञात वाहन की चपेट में आने से बाइक सवार दो युवकों की मौत, एक गंभीर||नहीं रहे कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव, दिल्ली एम्स में निधन, हार गए जिंदगी की जंग||बालूमाथ में राजद नेता पर जानलेवा हमला, गंभीर हालत में रिम्स रेफर

झारखंड कैबिनेट में फेरबदल, कांग्रेस के लिए नयी मुसीबत, फूट पड़ने की आशंका बढ़ी

'

रांची : कांग्रेस में सब कुछ ठीक नहीं है। कैश स्कैंडल में पार्टी के तीन विधायक फिलहाल जेल में हैं। पार्टी के प्रभारी पहले ही कांग्रेस कोटे के मंत्रियों में फेरबदल के संकेत दे चुके हैं। अब जबकि झारखंड विधानसभा का मानसून सत्र भी समाप्त हो गया है, इस दिशा में भी मामला आगे बढ़ेगा। हालांकि कांग्रेस विधायक दल की बैठक में तमाम शिकायतें दूर होने की चर्चा है, लेकिन मंत्री पद बदलने के बाद भी पार्टी में फूट पड़ने की आशंका है।

पार्टी कांग्रेस कोटे से चार में से दो या तीन मंत्रियों को बदलने का मन बना रही है। ऐसे में उनकी जगह दो-तीन विधायकों को मंत्री बनने का मौका मिलेगा। वे विधायक जो मंत्री नहीं बन पाएंगे या जिन्हें मंत्री पद से हटना होगा, वे विरोध का झंडा खड़ा कर सकते हैं। राष्ट्रपति चुनाव में कांग्रेस के नौ से 10 विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की थी। वहीं, पार्टी को कई अन्य विधायकों के भी कैश कांड में शामिल होने की आंतरिक जानकारी मिली है।

ऐसे में पार्टी की रिपोर्ट के मुताबिक जो विधायक न तो क्रॉस वोटिंग में शामिल थे और न ही कैश स्कैंडल में शामिल थे, उन्हें पार्टी के साथ खड़े होने के लिए मंत्री पद मिल सकता है। पार्टी उन्हें शॉर्टलिस्ट कर रही है। दोनों में शामिल विधायकों को मंत्री पद मिलने की संभावना नहीं है। हालांकि ऐसे विधायक क्रॉस वोटिंग और कैश स्कैंडल में शामिल होने से भी इनकार कर रहे हैं।

कैश कांड में जेल में बंद तीन विधायकों के बयान से दूसरे विधायकों का भविष्य तय होगा, वहीं अगर सरकार विधायकों को किसी न किसी रूप में मंत्री बनाएगी तो अन्य विधायकों में रोष होगा और बंटवारे की संभावना बढ़ जाएगी। ऐसे में पार्टी मंत्रिमंडल में फेरबदल की प्रक्रिया को आगे बढ़ा सकती है।