Breaking :
||पलामू में नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म, वीडियो वायरल करने की धमकी देकर किया शारीरिक शोषण||बूढ़ा पहाड़ से फिर मिले 12 केन IED बम, किया गया नष्ट||सीओ हेमा प्रसाद व अन्य के खिलाफ होगी ACB जांच, सीएम हेमंत सोरेन ने दी मंजूरी||राज्य के अधिकारी करेंगे झारखंड के सरकारी स्कूलों का दौरा, देखिये किस अधिकारी को मिली किस जिले की जिम्मेदारी||मानव तस्करी के शिकार झारखंड के 14 बच्चों को दिल्ली से कराया गया मुक्त||केंद्र की झारखंड को चेतावनी, कहा- डीवीसी का बकाया चुकाओ, नहीं तो जारी रहेगी बिजली कटौती||लातेहार: छिपादोहर में अज्ञात अपराधियों ने की फायरिंग, गोली लगने से महिला घायल, रेफर||लातेहार: नक्सली हमले के बाद पलामू डीआईजी ने किया मौका मुआयना, चंदवा थाने में नक्सलियों के खिलाफ मामला दर्ज||रांची में जमीन कारोबारी को अपराधियों ने मारी गोली, मौत||लातेहार: नक्सली हमले के बाद मौके पर पहुंचे एसपी ने कहा- पुलिस जल्द ही करेगी घटना का खुलासा

चारा घोटाला मामले में लालू प्रसाद यादव समेत छह सजायाफ्ता की सजा बढ़ाने को लेकर दाखिल याचिका पर सुनवाई

रांची : हाई कोर्ट के न्यायमूर्ति रंगन मुखोपाध्याय की अदालत में सोमवार को चारा घोटाला के देवघर कोषागार से अवैध निकासी से संबंधित लालू प्रसाद यादव सहित छह सजायाफ्ता की सजा बढ़ाने को लेकर दाखिल याचिका की आंशिक सुनवाई हुई। मामले में सीबीआई की ओर से कोई अधिवक्ता कोर्ट में उपस्थित नहीं हुआ। लालू की ओर से अधिवक्ता प्रभात कुमार ने पैरवी की। अदालत ने मामले की सुनवाई तीन सप्ताह बाद निर्धारित की।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

मामले के छह सजायाफ्ता में से तीन आरके राणा, फूलचंद सिंह और महेश प्रसाद का निधन हो चुका है। छह सजायाफ्ता की सजा बढ़ाने मामले में से अब सिर्फ लालू प्रसाद, सुबीर कुमार भट्टाचार्य और ब्रेक जुलियस ही बचे हैं।

उल्लेखनीय है कि सीबीआई ने हाई कोर्ट में याचिका दाखिल कर कहा है कि देवघर कोषागार से अवैध निकासी मामले में इन छह सजायाफ्ता को तीन से छह साल की सजा सुनाई गई है। सीबीआई ने इन्हें अधिकतम सजा देने की मांग करते हुए याचिका दाखिल की है।