Breaking :
||दुमका में फिर पेट्रोल कांड, प्रेमिका और उसकी मां पर पेट्रोल डाल कर प्रेमी ने लगायी आग||छत्तीसगढ़ में पुलिस के साथ मुठभेड़ में चार नक्सली ढेर, शव बरामद||UP राज्यसभा चुनाव में BJP के आठों उम्मीदवारों ने की जीत हासिल||माओवादी टॉप कमांडर रविंद्र गंझू के दस्ते का सक्रिय सदस्य ढेचुआ गिरफ्तार||पलामू: तूफान और बारिश ने मचायी तबाही, दो छात्रों की मौत, कहीं गिरे पेड़ तो कहीं ब्लैकआउट||झारखंड के 4 IAS अधिकारियों का तबादला, JPSC के सचिव का भी हुआ ट्रांसफर||झारखंड में 23 IPS अफसरों का तबादला, अंजनी अंजन बने रांची के ग्रामीण एसपी||पलामू: ग्रामीण डॉक्टर का अपहरण, मरीज को दिखाने के बहाने क्लिनिक में आये थे अपराधी||Jharkhand Budget: बाबूलाल मरांडी ने कहा- बजट में जन कल्याणकारी योजनाओं का समावेश नहीं||विधानसभा में 1.28 लाख करोड़ का बजट पेश, 2 लाख तक के कृषि ऋण होंगे माफ़, जानिये सरकार की अन्य घोषणायें
Wednesday, February 28, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

नियोजन नीति को लेकर जमकर बवाल, विधानसभा मार्च पर निकले छात्रों पर पुलिस ने बरसायी लाठियां, दागे आंसू गैस के गोले

रांची : विधानसभा सत्र के अंतिम दिन गुरुवार को नियोजन नीति में विसंगतियों को लेकर छात्रों ने विधानसभा मार्च निकाला। छात्रों को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने लाठी चार्ज किया और आंसू गैस के गोले भी दागे। उधर, आक्रोशित छात्रों ने राज्य सरकार के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर के काफिले पर पानी की बोतल फेंक दी।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

झारखंड यूथ एसोसिएशन और झारखंड छात्र संघ के बैनर तले राज्य भर से आये छात्रों को रोकने के लिए पुलिस ने विधानसभा की ओर जाने वाले सभी रास्तों की घेराबंदी कर दी। हालांकि, जगन्नाथ मंदिर की तरफ के छात्रों ने बैरिकेड्स तोड़ दिये और आगे बढ़ने की कोशिश की। इसके बाद पुलिस ने सख्ती दिखायीं। वहीं लाठीचार्ज से आक्रोशित छात्रों ने पुलिस पर पथराव भी शुरू कर दिया। काफी देर तक हंगामा होता रहा।

जानकारी के अनुसार आधा दर्जन छात्रों के साथ कुछ पुलिसकर्मी भी घायल हो गये। हंगामे की सूचना पर भारी संख्या में पुलिस बल भेजा गया। हालांकि स्थिति नियंत्रण में है।

बता दें कि शहीद मैदान में प्रदेश भर से करीब 500 छात्र जमे थे। इसके बाद नारेबाजी करते हुए जगन्नाथ मंदिर पहुंचे। पुलिस ने जब तक उन्हें रोकने की कोशिश की, तो वे बेरिकेड्स तोड़कर विधानसभा की ओर बढ़ने लगे. हालांकि पुलिस ने समय रहते छात्रों को रोक लिया।

Jharkhand planning policy 2023