Breaking :
||लातेहार: विद्यालय से उर्दू शब्द हटाए जाने पर मुस्लिम समुदाय में आक्रोश, किया प्रदर्शन||मुख्य धारा में लौटे नक्सलियों के सम्मान समारोह में अधिकारियों ने कहा- सरकार की सेरेंडर पॉलिसी का लाभ उठाएं नक्सली||लातेहार : खेत में धान बो रहे किसान पर गिरी बिजली, पति-पत्नी की मौके पर ही मौत||झारखंड भाजपा को मिलेगा नया प्रदेश अध्यक्ष, नियुक्ति को लेकर कई नामों पर चर्चा||अब झारखंड के बिजली उपभोक्ताओं को मिलेगी 100 यूनिट मुफ्त बिजली||रांची गैस दुकानदार को गोली मारने की घटना का पर्दाफाश, दो गिरफ्तार||झारखंड पुलिस के दो पदाधिकारियों को केंद्रीय गृह मंत्री मेडल||पलामू: दहेज में बाइक नहीं मिलने से नाराज पति ने काट दी पत्नी की गर्दन||लातेहार: प्रखंड समन्वयक को मिली जान से मारने की धमकी, मामला दर्ज||पलामू: राजद प्रदेश अध्यक्ष और झामुमो नेता के बीच खूनी झड़प व गोलीबारी

मडंल में सीआरपीएफ चौक की स्थापना, जल्द होगा पार्क के रूप में विकसित

'

शशि शेखर/बरवाडीह

लातेहार : बरवाडीह प्रखंड क्षेत्र का मंडल डैम का इलाका बीते कुछ वर्ष पूर्व नक्सलियों के लिए सुरक्षित जोन के रूप में जाना जाता था। मगर लगभग एक दशक पूर्व सीआरपीएफ कैंप की स्थापना किए जाने के बाद से यह क्षेत्र नक्सल मुक्त हो गया। अब यह आम जनों और पर्यटकों के घूमने-फिरने का सुरक्षित क्षेत्र बन चुका है।

वर्तमान में सीआरपीएफ 11वीं बटालियन की दो कंपनियां इस क्षेत्र में काम कर रही हैं। इस दौरान क्षेत्र में सुरक्षा व्यवस्था के साथ-साथ क्षेत्र की विधि व्यवस्था आम जनों की समस्याओं को लेकर भी सीआरपीएफ की टीम पूरी तरह से सजग रहती हैं।

वहीं हाल के दिनों में सीआरपीएफ के द्वारा मंडल डैम और सीआरपीएफ कैंप जाने के रास्ते में स्थित गोलंबर को गोद लेते हुए सीआरपीएफ चौक की स्थापना की गई है। जहां पूरे गोलंबर परिसर की साफ-सफाई और लाइटिंग की व्यवस्था करके उसका पूरा स्वरूप बदलने का काम किया गया है।

स्थानीय लोगों की माने तो जब इस क्षेत्र में नक्सलियों की गतिविधि तेज हुआ करती थी, तो इस स्थान पर नक्सलियों के द्वारा दीवार लेखन कर अपना संदेश आम जन तक पहुंचाने का काम किया जाता था। वहीं सीआरपीएफ चौक की स्थापना किए जाने से स्थानीय लोगों में खुशी का माहौल देखा जा रहा है।

सीआरपीएफ के सहायक कमांडेंट विनीत मिश्रा ने बताया कि सीआरपीएफ चौक की स्थापना किए जाने का मुख्य उद्देश्य मंडल क्षेत्र को पूरी तरीके से भयमुक्त वातावरण देने के साथ-साथ एक बेहतर चौक की स्थापना किया जाना है। आने वाले समय में इसे और बेहतर करके बच्चों के लिए खेलकूद का पार्क और बुजुर्गों और आम लोगों के बैठने के लिए एक बेहतर स्थान भी बनाया जाएगा।

वहीं सीआरपीएफ 11वीं बटालियन के उप कमांडेंट प्रणव आनंद झा ने बताया की क्षेत्र के लोगों से जुड़ाव के लिए यह चौक कारगर साबित होगा। क्योंकि आम लोगों के बीच सीआरपीएफ के द्वारा सभी तरह के जन सहयोगी कार्यक्रमों का आयोजन अब इसी चौक पर किया जाएगा।


Leave a Reply

Your email address will not be published.