Breaking :
||राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू 28 फरवरी को आयेंगी रांची, सुरक्षा के रहेंगे कड़े इंतजाम||झारखंड: अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर युवती से किया दुष्कर्म, धर्म परिवर्तन कराकर जबरन करा दी शादी||लातेहार: बालूमाथ में लोडेड देशी पिस्टल के साथ दो युवक गिरफ्तार, कार जब्त||पीएम मोदी ने समुद्र में लगायी डुबकी, जलमग्न कृष्ण की नगरी द्वारका को देखा||लातेहार: बारियातू में ऑटो चालक की गोली मारकर हत्या, विरोध में सड़क जाम||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल
Monday, February 26, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

पलामू: मेदिनीनगर, सतबरवा समेत आठ प्रखंडों को भूमिगत पाइपलाइन से मिलेगा पानी, योजना स्वीकृत

पलामू : अल्पवृष्टि से हर वर्ष जूझने वाले पलामू जिले को भूमिगत पाइपलाइन के माध्यम से विभिन्न जलाशयों-जल निकायों में आवश्यकता अनुसार पेयजल एवं सिंचाई का पानी उपलब्ध कराने के लिए योजना की स्वीकृति दी गयी है। 456 करोड़ 62 लाख 61 हजार में इस योजना को तैयार किया जायेगा। दो वर्ष के भीतर इस योजना को पूर्ण कर लेने का लक्ष्य रखा गया है।

उतरी कोयल, औरंगा एवं सोन नदी से 31.397 एमसीएम जल लिफ्ट कर भूमिगत पाइपलाइन के माध्यम से पलामू जिले के 8 प्रखंडों को पानी दिया जायेगा। इनमें से 1.926 एमसीएम जल पेयजल के लिए उपलब्ध कराया जायेगा। राज्य सरकार ने इसकी स्वीकृति प्रदान कर दी है। यह जानकारी सांसद वीडी राम ने सुदना स्थित आवास पर बुधवार को पत्रकारों को दी।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

उन्होंने कहा कि वे पिछले पांच वर्ष से इस योजना के लिए प्रयास कर रहे थे। पलामू एवं गढवा अकाल और सुखाड़ से प्रभावित रहता है। पलामू प्रमंडल में औसत वर्षापात 1163 एमएम है। ऐसे में भूमिगत पाइपलाइन योजना से जलाशयों को भरकर सिंचाई एवं पेयजल के लिए पानी उपलब्ध कराया जायेगा। योजना से चैनपुर, मेदिनीनगर, सतबरवा, विश्रामपुर, हुसैनाबाद, हैदरनगर एवं मोहम्मदगंज प्रखंड लाभांवित होंगे।

सांसद ने कहा कि सोन नदी से 7.47 एमसीएम पानी देवरीकला से लिफ्ट किया जायेगा और छतरपुर के बतरे एवं सुखनदिया व करमाकलन डैम विश्रामपुर के धनकई और तालीडैम को पानी मिलेगा। साथ ही पाइपलाइन के मार्ग में पड़ने वाले छोटे बड़े जलाशय को भी पानी दिया जायेगा। उतरी कोयल से चैनपुर के कल्याणपुर में पानी लिफ्ट कर रानीताल, टेमराइन एवं बुटनडूबा डैम के अलावा पाइपलाइन के मार्ग में आने वाले मेदिनीनगर के छोटे बड़े जलाशय को पानी मिलेगा।

इसी तरह से औरंगा नदी से मनिका के रांकीकला में पानी लेकर सतबरवा के मलय, पोसतिया नाला, पनघटवा डैम, मेदिनीनगर के कचरवा डैम, कुंडेलवा डैम, बहेरवा नाला डैम एवं इस मार्ग में आने वाले अन्य जलाशयों को पानी दिया जायेगा।