Breaking :
||बंगाल की खाड़ी में बन रहे लो प्रेशर का झारखंड में असर, ऑरेंज अलर्ट जारी, झमाझम बारिश से लोगों को गर्मी से मिली राहत||जेठानी ने देवरानी पर लगाये गंभीर आरोप, कहा- कल्पना सोरेन के इशारे पर मेरी दोनों बेटियों को मारने की थी कोशिश||गढ़वा: JJMP जोनल कमांडर के नाम पर पूर्व विधायक सत्येंद्र नाथ तिवारी को धमकी||छत्तीसगढ़ में पुलिस के साथ मुठभेड़ में फिर मारे गये सात नक्सली||ED की रिमांड अवधि के दौरान मंत्री आलमगीर आलम का बीपी और शुगर लेवल हाई, स्ट्रेस भी बढ़ा||पलामू: पत्नी के सामने फंदे से झूल गया पति, लगातार झगड़ों से था परेशान||ED ने अब झारखंड सरकार के दो और मंत्रियों को पूछताछ के लिए बुलाया, सियासी गलियारों में हलचल||पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारा गया माओवादी एरिया कमांडर बुधराम मुंडा||लोहरदगा में निर्माणाधीन कुआं धंसने से चार मजदूरों की दबकर मौत||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता का इंडी गठबंधन पर हमला, कहा- कोड वर्ड के जरिये बेच दिया झारखंड को
Thursday, May 23, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार: फ़ूड पॉइजनिंग के शिकार हुए दर्जनों ग्रामीण, सरहुल के जुलूस में खाया था चना और गुड़

लातेहार : जिले के चंदवा प्रखंड के सिकनी, आन और कीता गांव के 40 से अधिक लोग फ़ूड पॉइजनिंग का शिकार हो गये। बताया जाता है कि सरहुल कार्यक्रम के दौरान गांव में चना और गुड़ खाने से सभी बीमार हो गये। हालांकि मेडिकल टीम ने समय रहते गांव पहुंचकर बीमार का इलाज किया, जिससे स्थिति बिगड़ने से बच गयी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार सरहुल का कार्यक्रम गांव में आयोजित किया गया था। इस कार्यक्रम में चना और गुड़ का वितरण भी किया गया। चना और गुड़ खाने के बाद रात में अचानक ग्रामीणों की तबीयत बिगड़ने लगी। ग्रामीणों को उल्टी व दस्त होने लगे। अचानक इतने लोगों की तबीयत बिगड़ने से गांव में कोहराम मच गया। ग्रामीणों ने इसकी सूचना तत्काल स्वास्थ्य विभाग को दी।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

सूचना मिलते ही लातेहार सिविल सर्जन डॉ. दिनेश कुमार के निर्देश पर मेडिकल टीम गांव पहुंची और कैंप लगाकर बीमार ग्रामीणों का इलाज शुरू किया। समय पर इलाज मिलने से गांव में ही इलाज के बाद अधिकांश ग्रामीणों की स्थिति सामान्य हो गयी। बाद में जिनकी हालत ज्यादा गंभीर लग रही थी, उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया।

सिविल सर्जन ने बताया कि चना और गुड़ खाने के बाद लोग फूड पॉइजनिंग के शिकार हो गये थे। उन्होंने बताया कि सभी बीमार लोगों की स्थिति नियंत्रण में है। मेडिकल टीम को अगले 3 दिनों तक सभी बीमार व्यक्तियों पर पैनी नजर रखने के स्पष्ट आदेश दिये गये हैं।

लातेहार फ़ूड पॉइजनिंग न्यूज