Breaking :
||लातेहार: पातम-डाटम जल प्रपात घूमने आये दो युवकों की नहाने के दौरान नदी में डूबने से मौत||पाकुड़ में करंट लगने से बाप-बेटे की मौत, बेटे को बचाने में गयी पिता की जान||झारखंड में IAS अधिकारियों का तबादला, केके सोन को परिवहन विभाग का अतिरिक्त प्रभार||बूढ़ा पहाड़ पहुंचे CRPF के DG कुलदीप सिंह, जवानों का बढ़ाया हौसला||वर्चस्व की लड़ाई में मारा गया JJMP कमांडर, लातेहार, रामगढ़ और रांची इलाके में था सक्रिय||शर्मनाक: पुलिस कर्मी पर जानवर से दुष्कर्म का आरोप, ग्रामीणों ने की मारपीट, आरोपी जवान निलंबित||BREAKING: पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में घायल सीआरपीएफ जवान की इलाज के दौरान मौत||15 लाख का इनामी माओवादी कमांडर विनय यादव गिरफ्तार, पलामू, लातेहार, गढ़वा व चतरा में हुए कई नक्सली हमलों में था शामिल||पलामू: अज्ञात वाहन की चपेट में आने से बाइक सवार दो युवकों की मौत, एक गंभीर||नहीं रहे कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव, दिल्ली एम्स में निधन, हार गए जिंदगी की जंग

सांगठनिक बदलाव की तैयारी में झारखंड कांग्रेस, अधिकांश जिले में नए चेहरों को मौका

'

रांची : प्रदेश कांग्रेस में सांगठनिक बदलाव की प्रक्रिया शुरू हो गई है। फिलहाल जिला स्तर पर बदलाव किए जाएंगे। पहले चरण में जिलाध्यक्ष बदला जाएगा। पार्टी आलाकमान झारखंड में करीब 95 फीसदी जिलाध्यक्षों को बदलने के मूड में है. पांच फीसदी में ऐसे लोग शामिल हैं जिन्होंने पार्टी के लिए अच्छा काम किया है। अधिकांश नए चेहरे जिलाध्यक्ष पद पर होंगे।

कुछ दिन पहले प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में जिलाध्यक्ष पद के चयन के लिए पहली बार इंटरव्यू हुआ था, जिसमें बड़ी संख्या में युवाओं ने भाग लिया था. प्रतिभागियों से पार्टी से जुड़े सवाल पूछे गए। दूसरे शब्दों में, पार्टी साक्षात्कार के आधार पर, केवल योग्य उम्मीदवार को जिले की जिम्मेदारी सौंपी जाएगी।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

प्रदेश प्रभारी की मौजूदगी में दो दिन तक जिलाध्यक्षों का मैराथन इंटरव्यू हुआ। प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडेय, प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर, कार्यकारी अध्यक्ष बंधु तिर्की समेत पार्टी के कई दिग्गजों ने खुद साक्षात्कार प्रक्रिया की कमान संभाली थी।

साक्षात्कार के माध्यम से उम्मीदवारों के बीच यह देखा गया कि पिछले तीन वर्षों में उन्होंने पार्टी के दिशा-निर्देशों को पूरा करने में कितनी गंभीरता दिखाई है कि उनमें संगठन चलाने की क्षमता है या नहीं। पार्टी के मौजूदा जिलाध्यक्ष अब इस बात को लेकर अटकलों में हैं कि कौन रहेगा और कौन जाएगा।

फिलहाल पूरा मामला पार्टी आलाकमान के कोर्ट में है। साक्षात्कार के आधार पर जिला प्रमुखों की सूची तैयार की जा रही है। जल्द ही सूची बनाने का काम पूरा कर लिया जाएगा। हाईकमान से हरी झंडी मिलने के बाद ही सूची सार्वजनिक की जाएगी।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राजीव रंजन ने बताया कि सारा होमवर्क करने के बाद प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडेय उन्हें अपने साथ दिल्ली ले गए हैं। सूची की मार्किंग भी की जा चुकी है। सारा काम दिल्ली से ही करना है। जल्द ही इसकी घोषणा की जाएगी।