Breaking :
||पलामू में बिजली गिरने से तीन किशोर की मौत, बारिश से बचने के लिए पेड़ के नीचे छिपे थे||रांची में करंट लगने से एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत, तिरंगा लगाने के दौरान हुआ हादसा||15 अगस्त को झारखंड के 26 पुलिसकर्मियों को विभिन्न सेवाओं के लिए मेडल||रांची में नकली नोटों के तस्कर को पकड़ने गई दिल्ली पुलिस पर ग्रामीणों ने किया हमला, बनाया बंधक||झारखंड जल्द होगा सूखाग्रस्त घोषित, सभी मापदंडों पर तैयार हो रही रिपोर्ट||लातेहार: विद्यालय से उर्दू शब्द हटाए जाने पर मुस्लिम समुदाय में आक्रोश, किया प्रदर्शन||मुख्य धारा में लौटे नक्सलियों के सम्मान समारोह में अधिकारियों ने कहा- सरकार की सेरेंडर पॉलिसी का लाभ उठाएं नक्सली||लातेहार : खेत में धान बो रहे किसान पर गिरी बिजली, पति-पत्नी की मौके पर ही मौत||झारखंड भाजपा को मिलेगा नया प्रदेश अध्यक्ष, नियुक्ति को लेकर कई नामों पर चर्चा||अब झारखंड के बिजली उपभोक्ताओं को मिलेगी 100 यूनिट मुफ्त बिजली

लातेहार डीएसई के भ्रष्टाचार के खिलाफ लोकायुक्त में शिकायत

'

latehar dse news

समाजसेवी रवि डे ने की शिकायत, लगाये कई गंभीर आरोप

लातेहार के डीएसई सह डीईओ निर्मला बरेलिया के भ्रष्टाचार में संलिप्त रहने के खिलाफ रांची के लोकायुक्त से शिकायत की गई है। लातेहार के समाजसेवी रवि डे ने शिकायत में कई गंभीर आरोप लगाया है।

उंन्होने शिकायती आवेदन में कहा है कि डीएसई अपने पद का दुरुपयोग करते हुए हेरहंज के बीआरपी निरंजन कुमार सिंह के साथ मिलकर लातेहार शिक्षा विभाग में भ्रष्टाचार चरम पर पहुंचा दिया है।

डीएसई – डीईओ ऑफिस में बिना घुस के कोई काम नही होता है। डीएसई के द्वारा उच्च विद्यालय विकास कोष का दुरुपयोग खुलेआम किया गया है। विद्यालयों में सोफासेट, वीआईपी कुर्सी और कारपेट खरीदा जा रहा है। जबकि विद्यालयों में पुस्तकालय, प्रयोगशाला के सामान, कम्प्यूटर आदि की आवश्यकता है।

डीएसई विद्यालय विकास अनुदान एवं छात्र विकास कोष की राशि से बीआरपी निरंजन से मिलकर विद्यालयों में जबर्दस्ती घटिया सामानों की आपूर्ति कराते हैं और डीईओ सह डीएसई और सीओएम के नाम पर पांच से दस प्रतिशत तक की अवैध वसूली विद्यालय अनुदान की राशि से की जा रही है।

लातेहार जिले के हेरहंज प्रखण्ड के बीआरपी के द्वारा बच्चों को दो सेट की जगह एक सेट पोषाक तथा विद्यालय किट में मात्र दो पीस कॉपी व एक पेंसिल की आपूर्ति की गई है और शिक्षकों को डरा धमका कर आपूर्ति की पूरी राशि का भुगतान करा लिया गया है। वहीं जीएसटी और टैक्स की चोरी भी कर ली गई है।

डीएसई के द्वारा शिक्षकों का वेतन बन्द कर तथा अन्य कार्यो में अवैध वसूली लगातार की जा रही है। डीएसई ऑफिस में एमडीएम सेल में कार्यरत कम्प्यूटर ऑपरेटर अली अख्तर के साथ डीएसई के साथ लेन देन में खटपट होने के कारण नोट शीट लिख कर शिक्षकों से की गई अवैध वसूली को वापस करने के लिए डीएसई के समाने प्रस्तुत किया है। उंन्होने लोकायुक्त से निष्पक्ष जांच कर डीएसई निर्मला बरेलिया और बीआरपी निरंजन के खिलाफ आवश्यक कार्रवाई करने की मांग की है।

latehar dse news

https://thenewssense.in/category/latehar

https://www.facebook.com/newssenselatehar


Leave a Reply

Your email address will not be published.